Move to Jagran APP

धर्मशाला के पास शिव मंदिर में तोड़फोड़, शरारती तत्‍वों ने झाड़ियों में फेंकी शिवलिंग; पुलिस के हाथ खाली

Demolition Temple सदर थाना धर्मशाला के तहत नगर निगम के वार्ड 17 सिद्धपुर स्थित शिक्षा बोर्ड कॉलोनी के साथ बने शिव मंदिर में मंगलवार को किसी ने तोड़फोड़ की।

By Rajesh SharmaEdited By: Published: Wed, 26 Feb 2020 09:50 AM (IST)Updated: Wed, 26 Feb 2020 04:34 PM (IST)
धर्मशाला के पास शिव मंदिर में तोड़फोड़, शरारती तत्‍वों ने झाड़ियों में फेंकी शिवलिंग; पुलिस के हाथ खाली

धर्मशाला, जागरण संवाददाता। सदर थाना धर्मशाला के तहत नगर निगम के वार्ड 17 सिद्धपुर स्थित शिक्षा बोर्ड कॉलोनी के साथ बने शिव मंदिर में मंगलवार को किसी ने तोड़फोड़ की। भगवान शिव की मूर्ति और शिव¨लग को उठाकर झाड़ियों में फेंक दिया है। नंदी बैल की मूर्ति का कोई पता नहीं चल पाया है। वार्ड पार्षद व ग्राम सुधार सभा सिद्धपुर ने धर्मशाला थाना में इस बाबत सूचना दे दी है। मंगलवार सायं करीब आठ बजे किसी ने मंदिर में तोड़फोड़ की। कॉलोनी में रहने वाले एक बच्चे का कहना है कि एक औरत मंदिर में तोड़फोड़ कर रही थी।

बच्चे का कहना है कि जब वह मंदिर की ओर गया और स्वजनों को आवाज लगाने लगा तो महिला वहां से फरार हो गई। इस मंदिर की स्थापना करीब तीन चार साल पहले हुई है और 22 फरवरी को भंडारे का आयोजन किया गया था। पार्षद विशाल जम्‍वाल ने बताया कि पुलिस की मदद से मामले की छानबीन करवाई जाएगी। सदर थाना धर्मशाला के प्रभारी राजेश कुमार ने बताया कि केस दर्ज कर छानबीन शुरू कर दी है।

बीते दिनों जिला चंबा में भी ऐसी ही घटना सामने आई थी, इस तरह की वारदात से प्रदेश के लोगों में काफी आक्रोश है। हिमाचल के अधिकतर लोग शिव की अराधना करते हैं, ऐसे में मंदिरों में इस तरह की घटनाएं होने से लोग निराश हैं। जिला चंबा के भरमौर में लाहला स्थित शिव प्रतिमा को दो बार तोड़ दिया गया।

बीते महीनों शरारती तत्‍वों ने मूर्ति को तोड़ दिया। जिसे प्रशासन और पंचायत ने दोबारा बनवा दिया। अब बीते सप्‍ताह दोबारा मूर्ति को खंडित कर दिया गया। भरमौर पुलिस प्रशासन इस मामले में अभी तक किसी को भी नहीं पकड़ सका है। अब प्रदेश की दूसरी राजधानी धर्मशाला में इस तरह की वारदात से लोग निराश हैं।


This website uses cookies or similar technologies to enhance your browsing experience and provide personalized recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.