Sanskarshala 2022, आप सभी जानते और मानते हैं कि इंटरनेट मीडिया एक-दूसरे से जुडऩे का अच्छा साधन है। अब जो बात मैं यहां कह रहा हूं वह अनुभव का आधार है। जरा आप विचार कीजिए कि क्या वास्तव में इंटरनेट मीडिया आपस में जोडऩे का काम कर रहा है? क्या लोग वास्तव में इंटरनेट मीडिया के माध्यम से जुड़ रहे हैं या नहीं। इंटरनेट मीडिया से लोग आपस में जुड़ नहीं रहे अपितु एक-दूसरे से दूर होते जा रहे हैं। आप विचार कीजिए क्या पहले के समय में जब इंटरनेट मीडिया नहीं था तब लोग जुड़ते नहीं थे। आज से ज्यादा जुड़ते थे। सब लोग अपने नैतिक मूल्यों के कारण जुड़ते थे, पारस्परिक संस्कार अथवा प्रेम की वजह से जुड़ते थे। मैं मानता हूं कि आज के युग को डिजिटल युग कहना गलत न होगा।

पूरे संसार में संचार का सबसे बड़ा माध्यम इंटरनेट मीडिया बन गया है। युवा पीढ़ी इंटरनेट मीडिया के बिना जीवन की कल्पना नहीं कर सकती है। आजकल के लोग इंटरनेट मीडिया के माध्यम से ही एक-दूसरे के साथ संपर्क साधते हैं। इंटरनेट मीडिया हमारी जिंदगी का अभिन्न अंग बन गया है। ऐसा भी कह सकते हैं कि वाट्सएप, इंस्टाग्राम, यूट््यूब व फेसबुक के बिना हमें जिंदगी अधूरी सी लगती है। अगर थोड़ी देर के लिए भी हमारा फोन काम करना बंद कर दे तो हम पागल से हो जाते हैं। एक प्रकार से हम इंटरनेट मीडिया नामक नशे के आदी हो चुके हैं। इंटरनेट मीडिया नामक नशा हमारी रग-रग में बस चुका है। इसके बिना हमें एक पल भी काटना मुश्किल लगता है। ऐसा नहीं है कि इंटरनेट मीडिया एक बुरी आदत है। अगर हम इसे सकारात्मक रूप में ले तो यह हमारे लिए लाभदायक है। हम जिंदगी के छोटे-मोटे अनुभव भी एक दूसरे के साथ साझा कर सकते हैं और दूसरे के विचारों को भी सुन सकते हैं।

पहले के समय में लोग चिट्ठियों के माध्यम से एक-दूसरे के साथ बातचीत करते थे लेकिन आजकल ऐसा नहीं है। हम इंटरनेट मीडिया के माध्यम से अपनी बात बहुत जल्द दूसरे आदमी तक पहुंचा सकते हैं और इसमें दूरभाष यंत्र, वाट्सएप और फेसबुक हमारी बहुत मदद करते हैं। इंटरनेट मीडिया के माध्यम से हम आनलाइन कई प्रकार के व्यवसाय भी कर सकते हैं। फेसबुक पेज पर अपने व्यवसाय का पेज बनाकर अपने कारोबार का प्रमोशन कर सकते हैं और कम समय में ज्यादा ग्राहकों तक पहुंच सकते हैं। इंटरनेट मीडिया मार्केटिंग और डिजिटल मार्केटिंग इसके उदाहरण हैं। इसके माध्यम से हम घर बैठे पैसा कमा सकते हैं। इंटरनेट मीडिया का उपयोग सामाजिक विकास और लोगों में कई विषयों में जागरूकता फैलाने के लिए किया जाता है।

इंटरनेट मीडिया का प्रभाव हर व्यक्ति पर पड़ता है और उनकी सोच को प्रभावित करता है। इंटरनेट मीडिया के नकारात्मक प्रभाव बच्चों पर पड़ते हैं, इसलिए अभिभावकों को इसकी निगरानी हमेशा करनी चाहिए। लगातार इसका उपयोग करने से बच्चों की मनोदशा पर प्रभाव पड़ता है। इंटरनेट मीडिया के कारण बच्चे खेलकूद में दिलचस्पी कम ले रहे हैं और इसका असर उनकी सेहत पर पड़ रहा है। कुछ लोग इंटरनेट मीडिया का बहुत ही गलत उपयोग करते हैं। अवांछनीय चीजों को डालकर इंटरनेट मीडिया का दुरुपयोग करते हैं। ऐसे लोगों से बचना चाहिए और इनकी शिकायत साइबर ब्यूरो में करनी चाहिए। अगर इंटरनेट मीडिया का प्रयोग सही ढंग से किया जाए तो यह किसी वरदान से कम नहीं है। अंत में मैं यही कह सकता हूं कि अगर इंटरनेट मीडिया का सावधानीपूर्वक इस्तेमाल किया जाए तो यह हमारे लिए लाभदायक है। एक ताकतवर साधन है और लोगों को विचार-विमर्श कर इसका सही उपयोग करना चाहिए।

-डा. राजीव सिंह नरियाल, प्रधानाचार्य, स्प्रिंग डेल कान्वेंट सीनियर सेकेंडरी स्कूल, जवाली

Edited By: Virender Kumar