धर्मशाला, जागरण संवाददाता। चाइल्डलाइन कांगड़ा की ओर से आयोजित हस्ताक्षर अभियान में प्रारंभिक शिक्षा उप-निदेशक महिंद्र सिंह ने हस्ताक्षर करके अपनी वनबद्धता जताई। जिसमें शिक्षा उपनिदेशक प्रारंभिक महिंद्र सिंह को दोस्ती बैंड (सुरक्षा बंधन) पहना कर बच्चों की सुरक्षा के लिए वचनबद्धता ली। उन्होंने कहा कि चाइल्ड लाइन कांगड़ा के सभी स्कूलों में ये हेल्पलाइन लिखा हुआ है और अगर अध्यापक किसी बच्चे को उसके भले के लिए बोलते है, तो बच्चों से भी आह्वान किया कि बे इस नंबर 1098 का गलत इस्तेमाल न करें। इसके बाद शिक्षा विभाग कार्यालय के कर्मचारियों द्वारा भी हस्ताक्षर करके बच्चों की सुरक्षा के लिए अपनी वचनबद्धता दर्ज़ करवाई।

जिला कांगड़ा के चाइल्ड हेल्पलाइन जिला समन्वयक मनमोहन चौधरी ने बताया कि इसके बाद चाइल्डलाइन टीम आंगनबाड़ी सेंटर दाड़ी धर्मशाला में गई। वहां पर चाइल्डलाइन नंबर 1098 एवं विभिन्न गतिविधियों की जानकारी प्रदान दी। हस्ताक्षर अभियान के तहत बच्चों व आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं को चाइल्डलाइन का दोस्त बनाया व उनसे बचनबद्धता ली कि वह कहीं भी किसी बच्चे को किसी भी तरह के शोषण में देखे तो 1098 पर जरूर सूचना दें।

इसके बाद चाइल्ड लाइन टीम सदस्यों मनमोहन, बलदेव, जितेंद्र, इंद्रजीत, पिंकू, ललिता, डिंपल, अनीता व सतीश ने सभी बच्चों को चाइल्ड लाइन की जानकारी से संबंधित पोस्टर बांटें व रंगोली एवं मेहंदी प्रतियोगिता का आयोजन किया। जिसमे मेहंदी प्रतियोगिता में प्रथम स्थान पर ख़ुशी और अक्षरा, दूसरे स्थान पर पायल और मालिनी व तीसरे स्थान पर मन्नत रहे। रंगोली प्रतियोगिता में प्रथम स्थान पर मालिनी, दूसरे स्थान पर अक्षरा व तीसरे स्थान स्मृति पर रहे।

इन सभी विजेताओं बच्चों को मेडल व प्रमाण-पत्र देकर चाइल्ड लाइन कांगड़ा की ओर से सम्मानित किया। इस अवसर पर पर आंगनवाड़ी सेंटर दाड़ी के आंगनवाड़ी कार्यकर्ताओं करिश्मा व कमलेश ने भी चाइल्ड लाइन के कार्यक्रम में भाग लिया और सराहना की। चाइल्डलाइन टीम की ओर से उन्हें भी स्मृति चिन्ह देकर सम्मानित किया।

Edited By: Richa Rana