धर्मशाला, जेएनएन। Himachal Weather Update, हिमाचल प्रदेश में भारी बारिश से जन‍जीवन बुरी तरह से अस्‍त व्‍यवस्‍त है। अभी बारिश का दौर थमने वाला नहीं है। प्रदेश में अभी पांच दिन तक भारी बारिश व आंधी चलने का अलर्ट जारी किया गया है। 10 जिलों में इसकी संभावना जताई गई है। 17  जुलाई को कांगड़ा, शिमला, मंडी, सोलन व सिरमौर में भारी बारिश का ऑरेंज अलर्ट जारी किया गया है। इस कारण भूस्‍खलन होने की भी आशंका जताई गई है। भारी बारिश के कारण 57 घरों सहित 50 गोशालाओं को नुकसान हुआ है। 14 घर पूरी तरह से क्षतिग्रस्त हो गए हैं। इसके अलावा प्रदेश में करीब 110 सड़कें बंद हैं। रात को भी प्रदेश के अधिकतर इलाकों में भारी बारिश हुई है।

रात को बारिश होने पर भागसू नाग के लोग दहशत में आ गए। वहीं, रुलेहड़ में बादल फटने के कारण मलबे में दबे लोगों को ढूंढने के लिए चलाए रेस्‍क्‍यू आपरेशन में खलल पड़ा। यहां अभी पांच लोग लापता हैं, जिन्‍हें ढूंढने के लिए एनडीआरएफ की टीम जुटी हुई। है।

पहली बारिश में ही टूट गई निकास नाली

चंबा के बकलोह में चिलामा हेलीपैड के समीप हाल ही में सड़क किनारे बनाई गई करीब 70 मीटर निकास नाली पहली बारिश में ही टूट गई। इस नाली को बनाने के लिए करीब तीन लाख का टेंडर लगाया गया था। सोमवार को हुई बारिश ने विभाग के पोल खोल कर रख दी है। करीब 25 फीट नाली का हिस्सा टूट गया है। इसमें जगह-जगह दरारें आने से लोगों ने सवाल खड़े करने शुरू कर दिए हैं। उधर, लोक निर्माण विभाग के कनिष्ठ अभियंता योगराज ने बताया कि अभी तक ठेकेदार के कार्य के बिल का भुगतान नहीं किया गया है। उन्होंने तुरंत ठेकेदार को काम दुरुस्त करने का आदेश दिए। वहीं, संबंधित ठेकेदार ने भी जल्द नाली को दुरुस्त करने की बात कही है।

Edited By: Rajesh Kumar Sharma