भदरोआ, मुकेश सरमाल। Himachal Corona Curfew, प्रदेश सरकार कोरोना महामारी से जनता को बचाने के लिए कड़े से कड़े कदम उठा रही है, ताकि जनता को इस महामारी से बचाया जा सके। पर फिर भी कई लोग इसको हल्के में लेते हुए बिना कार्यों से घरों से निकल रहे लोगों के खिलाफ पुलिस ने भी कड़ा रुख अपनाना शुरू कर दिया है। प्रदेश में कोरोना कर्फ्यू में ओर भी सख्त आदेश जारी किए हैं। जिसका असर थाना इंदौरा में पंजाब की सीमा के साथ पड़ते हिमाचल के प्रवेश द्वारों पर देखने को मिल रहा है। राष्ट्रीय राजमार्ग पर मीलवां में हिमाचल सीमा में ठाकुरद्वारा टू मीलवां बरोटा रोड पर लगाए गए पुलिस चेक पोस्ट पर भी व्यवस्था बहुत ही दुरुस्त दिखी।

मीलवां में प्रशासन द्वारा 24 घंटे नाका लगाया गया है। इस नाके से हिमाचल के मंड क्षेत्र में आने जाने वाले हर वाहन यहां तक की पैदल चलने वाले हर व्यक्ति को भी रोक कर आवाजाही का कारण पूछा जा रहा है और कर्फ्यू पास की जांच की जा रही है।

मीलवां नाके से हिमाचल में प्रवेश करने वालों का ई-पास और कोविड रिपोर्ट की जांच की जा रही है। केवल जरूरी वस्तुओं की सप्लाई वाले वाहनों को जाने दिया जा रहा है, जबकि मेडिकल इमरजेंसी वाले लोगों को भी जाने दिया जा रहा है। नाकों पर बिना इजाजत देखे किसी भी वाहन को इंदौरा की सीमा में नहीं आने दिया जा रहा है।

एसडीएम सोमिल गौतम ने बताया मेडिकल इमरजेंसी, ई-पास और जरूरी वस्तुओं की सप्लाई करने वाले वाहनों को जाने दिया जा रहा है। बिना ई-पास और बिना जरूरी दस्तावेजों के जो लोग प्रदेश में आ रहे हैं। उन्हें वापस भेजा जा रहा है। यहां तक कि जो स्थानीय लोग भी अपने वाहनों पर बिना काम से इधर उधर घूम रहे हैं। पुलिस उनसे भी पुछताछ कर उन्हें नाके से वापस भेज रही है और ठाकुरद्वारा पुलिस भी निरंतर क्षेत्र में गश्त कर बिना वजह घूमने वालो को घरों में ही रहने की चेतावनी दे रही है।

उन्होंने कहा इस महामारी से बचने के लिए जनता का सहयोग भी अति जरूरी है। जनता से भी अपील है कि बिना काम घरों से न निकलें, अति आवश्यक कार्य हो तो तभी बाहर निकलें, मास्क जरूर पहने ओर समाजिक दूरी बनाए रखने के निर्देशों की भी पालना करें। एक जगह चार से अधिक लोग एकत्र न हो। प्रशासन द्वारा दिये गए निर्देशों की पालने करें, ताकि इस महामारी से बचा जा सके।

Edited By: Rajesh Kumar Sharma