संवाद सहयोगी, नूरपुर : सिविल अस्पताल नूरपुर में लोगों को विशेषज्ञ चिकित्सकों की सेवाएं मिलना शुरू हो गई हैं। शुक्रवार को अस्पताल में पहली बार दूरबीन से एक महिला के पित्ते का आपरेशन किया गया। वर्तमान मे अस्पताल में चिकित्सकों की संख्या 26 है और इनमें से 14 विशेषज्ञ हैं।

सरकार ने अस्पताल में रेडियोलाजिस्ट के आर्डर किए हैं लेकिन अभी तक उन्होंने ज्वाइन नहीं किया है। यदि वह ज्वाइन करते हैं तो अस्पताल विशेषज्ञ चिकित्सकों से लैस हो जाएगा। इससे नूरपुर के अलावा इंदौरा, जवाली, फतेहपुर व चंबा के भटियात विधानसभा क्षेत्र के लोगों को बेहतर चिकित्सा सुविधा उपलब्ध होगी। विशेषज्ञ चिकित्सकों के रूप में डा. आशुतोष शर्मा, डा.प्रवीण शर्मा, डा. आरती चौधरी, डा.आशीष कुमार, डा.शशिकांत शर्मा, डा कार्तिक सैनी, डा.कोमल शर्मा, डा.स्वाति धीमान, डा.मोहन सिंह, डा.रूहाणी महाजन, डा. रिशु, डा.तुषार सैनी, डा.ज्योत्षना शर्मा व डा.नीतू सेवाएं दे रहे हैं।

..

लोगों को बेहतर चिकित्सा सुविधा मुहैया करवाने के लिए अस्पताल को 200 बिस्तर का दर्जा दिया है। वर्तमान में स्वास्थ्य सुविधा का लाभ नूरपुर के अलावा इंदौरा, जवाली, फतेहपुर व भटियात हलके के लोग उठा रहे हैं।

-राकेश पठानिया, वन मंत्री

......

सुविधाएं न होने पर आप कार्यकर्ताओं ने किया प्रदर्शन

संवाद सहयोगी, जयसिंहपुर : सिविल अस्पताल जयसिंहपुर मे सुविधाएं न होने पर आम आदमी पार्टी कार्यकर्ताओं ने प्रदर्शन किया। इस दौरान आप नेता सरवन कुमार ने कहा कि 20 पंचायतों के बाशिदों को सुविधाएं देने वाले अस्पताल में एक भी विशेषज्ञ डाक्टर नहीं है। लोगों को इलाज करवाने के लिए पालमपुर या टांडा अस्पताल का रुख करना पड़ता है। आप नेता सतीश कुमार ने कहा कि दो सप्ताह पहले सीएम जयराम ठाकुर ने अस्पताल के नए भवन का उद्घाटन कर दिया है जबकि अब भी काम चल रहा है। कहा, अस्पताल में न अल्ट्रासाउंड हो रहे हैं और न लैब तकनीशियन है।

Edited By: Jagran