धर्मशाला, जागरण संवाददाता। Dharamshala Mcleodganj Road, धर्मशाला से मैक्लोडगंज के लिए जाने वाले मुख्य मार्ग पर कोतवाली बाजार से थोड़ी आगे काली माता मंदिर के पास लोक निर्माण विभाग की ओर से लगाया जा रहा डंगा गिर गया है। भारी बारिश के कारण इस डंगे को बहुत नुकसान हुआ है। भूस्खलन के कारण गिरे डंगे से सड़क आधी ही रह गई है। अब यहां स्थिति यह हो गई है कि अगर थोड़ी भी ओर बारिश होती है तो मार्ग बंद हो जाएगा। हालांकि मैक्लोडगंज जाने के लिए बाईपास वैकल्पिक व्यवस्था है। लेकिन यह मार्ग मुख्‍य है। 54 लाख रुपये की लागत से निर्माणाधीन आरसीसी दीवार पूरी तरह से क्षतिग्रस्त हो गई है, जिससे 50 लाख रुपये के करीब नुकसान हो गया है।

हर साल इस सड़क मार्ग पर होने वाले भूस्खलन पर लाखों रुपये का बजट खर्च किया जा रहा है। इससे पहले भी निर्माणाधीन डंगा भू-स्खलन के कारण पूरी तरह से बह गया था। भू-स्खलन होने के कारण यहां से गुजरने वाले वाहन चालकों सहित राहगीरों में भी भय का माहौल रहता है।

वहीं मकलोडगंज-धर्मशाला सड़क के नीचे स्थित रिहायाशी क्षेत्रों में भी खतरा बना हुआ है, जबकि सड़क के साथ ही रोप-वे व अन्य घर भी हैं, जिसे लेकर भी स्थानीय लोग चिंतित हैं। स्थानीय निवासी अनुज कश्यप, अज्जू, धीरज व अन्य का कहना है कि डंगे को सुचारू रूप से लगाए जाने की आवश्यकता है। लगातार भू-स्खलन के कारण सड़क सहित आम लोगों के घरों को भी खतरा बना हुआ है। ऐसे में सरकार व विभाग को उचित तरीके से डंगा बनाया जाए।

यहां बता दें कि इस स्थान से 20 मीटर आगे नाले का पुल गिरने से पिछले साल मार्ग बंद हो गया था। अभी तीन माह पूर्व ही यह मार्ग शुरू हुआ था, लेकिन अब फिर मार्ग बंद हो गया है।

उधर लोक निर्माण विभाग मंडल धर्मशाला अधिशाषी अभियंता सुशील डढवाल ने कहा 300 मीटर पहाड़ी ही दरक गई है, जिस कारण भू-स्खलन हो रहा है। अब भविष्य में इस स्थान पर नई तकनीक अपनाने का सुझाव दिया है।

Edited By: Rajesh Kumar Sharma