अधिकारियों की लापरवाही बरसात के दिनों में लोगों पर पड़ेगी भारी

फोटो 47

जागरण संवाददाता, यमुनानगर

पुलिस और खनन विभाग की लापरवाही के चलते अवैध खनन माफिया का हौसला बुलंद है। खनन माफिया अवैध खनन का कोई भी मौका नहीं छोड़ रहा। संबंधित विभाग कार्रवाई करने के बजाए हाथ हाथ धरे बैठे हुए है। इसी का नतीजा है कि माफिया बरसाती नदियों को भी नहीं छोड़ रहे। बरसात के दिनों में अवैध खनन लोगों पर भारी पड़ेगी। इस ओर किसी का भी ध्यान नहीं है।

दिन रात लगे हैं अवैध खनन में :

हिमाचल की सीमा पर बसे भगवानपुर गांव की ओर लोहगढ़ से होते हुए बरसाती नदी आती है। यहां पर खनन की साइट है। मगर नियमों को ताक पर रखकर खनन हो रहा है। सरकार लोहगढ़ में जाने के लिए एक करोड़ की लागत से सड़क बना रही है। निर्माणाधीन सड़क से कुछ ही दूर पर खनन माफिया ने बरसाती नदी को खोद डाला। अवैध खनन से सड़क के अलावा उपजाऊ जमीन और गांव को भी खतरा है।

सीमा का उठाते हैं लाभ :

ये एरिया हिमाचल की सीमा से सटा हुआ है। यहां पर आने का रास्ता भी खस्ताहाल है। इसकी लाभ खनन माफिया उठा रहा है।जहां पर मौका मिलता है वहां पर खोदाई कर लेते हैं।

होती है रैंकी :

अवैध खनन करने वालों का नेटवर्क बहुत ज्यादा मजबूत है। इस एरिया में यदि कोई भी नया व्यक्ति या वाहन आता है तो इसकी सूचना अवैध खनन करने वालों को तुंरत मिल जाती है। इस काम के लिए अवैध खनन माफिया ने कुछ लोगों को इसी काम के लिए रखा हुआ है जो सूचना पास करते रहते हैं। ये लोग बिना नंबर की बाइक व अन्य वाहनों पर सवार रहते हैं। लेकिन पुलिस कोई एक्शन नहीं लेती।

भगवानपुर में साइट भी है, अवैध खनन की जांच होगी :

माइ¨नग इस्पेक्टर ओमदत्त का कहना है कि भगवानपुर गांव के पास खनन की साइट भी है। यदि वहां पर अवैध खनन हो रही है तो इसकी जांच की जाएगी। जांच में अवैध खनन मिलने पर निश्चित ही कार्रवाई की जाएगी।

Posted By: Jagran