जागरण संवाददाता, यमुनानगर : अंतरराष्ट्रीय योग दिवस के अवसर पर सोमवार को जिले में मेगा वैक्सीनेशन अभियान चलाया। इसके लिए जिले में 103 केंद्र बनाए गए थे। इस अभियान के दौरान 18 प्लस वालों के लिए पहले अप्वाइंटमेंट लेने की शर्त नहीं रखी गई थी। जिसका असर यह हुआ कि जिले में केंद्रों पर सुबह से ही टीकाकरण के लिए लाइन लगी रही। लोगों में टीकाकरण को लेकर काफी उत्साह दिखा। स्वास्थ्य विभाग ने 20 हजार लोगों के टीकाकरण का लक्ष्य रखा हुआ था, लेकिन 23 हजार 21 लोगों ने वैक्सीन का टीका लगवाया।

जिले में अब तक तीन लाख 27 हजार 81 लोगों को वैक्सीन की डोज लग चुकी है। इनमें से दो लाख 77 हजार 843 लोगों को पहली डोज और 49 हजार 238 लोगों को वैक्सीन की दूसरी डोज लग चुकी है। सोमवार को चले मेगा वैक्सीनेशन अभियान के दौरान टीकाकरण को आने वालों के लिए कोई शर्त नहीं रखी गई थी। केंद्रों पर भरपूर डोज भेजी गई थी, ताकि अधिक से अधिक लोगों को टीका लग सके। शशि महल पैलेस, जगाधरी सिविल अस्पताल, हुडा डिस्पेंसरी समेत सभी केंद्रों पर सुबह से ही टीकाकरण के लिए लाइन लगी हुई थी। सबसे अधिक युवाओं में जोश था, क्योंकि युवाओं के लिए अप्वाइंटमेंट लेने की शर्त नहीं थी। मौके पर ही रजिस्ट्रेशन व अप्वाइंटमेंट दिया जा रहा था।

कई केंद्रों पर 500 के पार पहुंची संख्या :

सिविल सर्जन डा. विजय दहिया ने बताया कि कई केंद्रों पर 500 से अधिक लाभार्थियों ने टीकाकरण कराया है। इनमें रेलवे अस्पताल यमुनानगर पर 987, आरएसएसबी जम्मू कालोनी पर 954, ज्योति रिजोर्ट पर 748 व आरएसएसबी तेजली पर 641 लाभार्थियों को कोविड वैक्सीन की डोज लगाई गई। 30 ऐसे लाभार्थियों का भी टीकाकरण किया गया। जो विदेश जाने वाले हैं। सरकार के दिशा निर्देशों के अनुसार 28 दिनों के बाद दूसरी डोज का टीका लगाया गया। इस दौरान विधायक घनश्याम दास अरोड़ा ने भी टीकाकरण केंद्रों का निरीक्षण किया। उन्होंने कहा कि टीकाकरण ही कोरोना से बचाव में कारगर है। सरकार का प्रयास है कि जल्द से जल्द पात्रता के दायरे में आने वाले सभी लोगों को टीका लग जाए।

800 लोगों ने लगवाई वैक्सीन

संवाद सहयोगी, छछरौली :छछरौली सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र के अधीन आने वाले केंद्रों में 800 लाभार्थियों को टीका लगवाया गया। एसएमओ डा. सुशीला सैनी ने बताया कि राजकीय कालेज छछरौली में 295, सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र छछरौली में 155, गांव दसौरा में 120, बलाचौर में 120 व मामली में 110 लोगों ने टीकाकरण कराया। उन्होंने बताया कि टीकाकरण के लिए अप्वाइंटमेंट की कोई बाध्यता नहीं थी। पात्रता के दायरे में आने वाले सभी लोग निश्चित रूप से टीकाकरण कराए। तभी कोरोना महामारी से बचा जा सकेगा। उधर, सरस्वतीनगर में सरस्वती धाम पर राधा-कृष्ण हनुमान मंदिर में श्री शिव शक्ति सेवा मंडल की ओर से कैंप लगाया गया। टीकाकरण इंचार्ज डा. सुशील कुमार के नेतृत्व में टीम पहुंची। यहां पर 350 लोगों को टीका लगाया गया। इस दौरान डा. अरुण कक्कड़, जितेंद्र गर्ग, हैप्पी बक्शी का भी सहयोग रहा।

राधा स्वामी सत्संग घरों में हुआ टीकाकरण

राधा स्वामी सत्संग घरों में कोरोना से बचाव के लिए टीकाकरण किया गया। अब तक राधा स्वामी सत्संग की ओर से 52 कैंप लगाए जा चुके हैं। क्षेत्र सचिव अरुण जोहल ने बताया कि जगाधरी, यमुनानगर वन, रादौर, बिलासपुर, ससोली सत्संग सेंटर में टीकाकरण हुआ। इस दौरान शारीरिक दूरी की पूरी तरह से पालना की गई। अलग-अलग जगह बनाई गई थी। जिससे भीड़ भाड़ न हो और कोविड नियमों का उल्लंघन न हो।

Edited By: Jagran