संवाद सहयोगी, खिजराबाद : ताजेवाला, अराईयांवाला व खैरी बांस में अवैध खनन माफिया ¨सचाई विभाग की जमीन में ही पत्थर व रेत का स्टाक कर मोटी कमाई कर रहा है। खनन माफिया के हौसले इतने बुलंद होते जा रहे हैं कि वह बेपरवाह दिन रात यमुना नदी का सीना चीरने में लगा है। यमुना नदी में जाने वाले रास्तों को छोड़ कर ¨सचाई विभाग की खाली पड़ी जमीन में बेरोक-टोक अर्थमूवर मशीन से माइ¨नग कर रहे हैं।

स्थानीय लोगों का कहना है कि खनन विभाग की ओर से जिन घाटों को ठेका दिया गया है वही पर रेत, बजरी व गटका निकाला जा सकता है इसके अतिरिक्त किसी भी जगह से खनन करना कानूनन अपराध की श्रेणी में आता है। लेकिन खनन माफिया बेखौफ अपने कार्य को अंजाम दे रहा है।

हजारों वाहन निकलते हैं ताजेवाला घाट से दिन रात ¨सचाई विभाग की भूमि से पत्थर, रेत ,बजरी,, गटका की हजारों ओवरलोड डंपर, ट्रैक्टर, ट्रालियां के माध्यम से अवैध तरीके से निकाला जा रहा है। ओवरलोड पर अंकुश लगाने की बात करने वाला जिला प्रशासन भी इन सब पर अंकुश लगाने में विफल साबित हो रहा है।

वर्जन

पुलिस चेक पोस्ट से लगाई जाएगी लगाम : विनोद कुमार

¨सचाई विभाग के एक्सईन के विनोद कुमार ने बताया कि लाल टोपी , अराईयावाला, ताजेवाला, में अवैध खनन को रोकने के लिए जिला पुलिस प्रशासन को पुलिस चैक पोस्ट के लिए लिख दिया गया है। पुलिस चेक पोस्ट लगते ही अवैध खनन पर अंकुश लगा दिया जाएगा।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप