Move to Jagran APP

Haryana Crime News: पड़ोसन के साथ सिरसा आई महिला चलती बस से गिरी, हेड इंजरी से मौत

सिरसा जिले (Sirsa News) के ऐलनाबाद-रानियां बाईपास रोड पर जिला नागरिक अस्पताल के पास मंगलवार को एक दर्दनाक हादसा हुआ। दरअसल एक महिला निजी बस से यात्रा कर रही थी। तभी बस से नीचे उतरने से वह मुंह के बल गिरी। जिस कारण से उसे हैड इंजरी हुई। सिर में गंभीर रूप से चोट लगने के कारण काफी खून बहने लगा। बाद में उसने दम तोड़ दिया।

By Subhash Agnihotri Edited By: Monu Kumar Jha Tue, 30 Apr 2024 06:44 PM (IST)
Haryana News: पड़ोसन के साथ सिरसा आई महिला चलती बस से गिरी।

जागरण संवाददाता, सिरसा। शहर ऐलनाबाद-रानियां बाईपास रोड पर जिला नागरिक अस्पताल के पास मंगलवार दोपहर को एक प्राइवेट बस से महिला की गिरने के कारण मौत हो गई। बताया जा रहा है कि गलती बस चालक थी। महिला की ओर से बस रोकने के लिए कहा गया परंतु जिला नागरिक अस्पताल के समक्ष बस न रोकने पर महिला चलती बस से सड़क पर मुंह के बल गिर गई।

सिर में चोट लगने के कारण उसके कान व नाक से खून बहने लगा। गंभीर घायलावस्था में जैसे ही लोगों ने उसे ट्रामा सेंटर तक लाया गया, उसने दम तोड़ दिया। मृतका की पहचान डबवाली के चौटाला गांव निवासी 38 वर्षीय गुड्डी के रूप में हुई है। गुड्डी अपनी पड़ोसी महिला चंद्रकला के साथ उसके किसी काम से जिला नागरिक अस्पताल आई थी। इसी दौरान यह हादसा हुआ।

पति का मृत्यु प्रमाण पत्र लेने आई थी पड़ोसन, साथ में आई थी मृतका

अपने साथ आई पड़ोसन गुड्डी की सड़क हादसे में मौत हो जाने पर चंद्रकला को भी सदमा पहुंचा। वह एकाएक हुए इस हादसे से घबरा गई। उसे चिकित्सकों की ओर से जांच के बाद वार्ड में रखा गया। चंद्रकला के फोन पर सूचना देने के बाद मृतका गुड्डी के स्वजन अस्पताल पहुंचे। स्वजन मेनपाल ने जानकारी देते हुए बताया कि चंद्रकला के पति धनराज की दो माह पूर्व में जिला जेल में सांस की बीमारी के चलते मौत हो गई थी।

जिसका पोस्टमार्टम जिला नागरिक अस्पताल में हुआ था। चंद्रकला अपने पति का मृत्यु प्रमाण पत्र लेने जिला नागरिक अस्पताल पहुंची थी। उसके साथ पड़ोस में रहने वाली गुड्डी भी सिरसा में खरीदारी करने के लिए बस में सवार होकर पहुंची थी।

जिस प्राइवेट बस में वे सवार होकर जिला नागरिक अस्पताल पहुंच रही थी। उस बस के चालक की ओर से अस्पताल के सामने बस न रोकने पर उन्होंने आवाज लगाई। बस चालक ने स्पीड थोड़ी कम की। इसी दौरान बस के गेट पर खड़ी गुड्डी सड़क पर जा गिरी। आरोपित बस चालक मौका स्थल से फरार हो गया।

पहले भी हो चुके है कई बार हादसे

बता दे कि शहर से अलग -अलग रूटों पर चलने वाली निजी बस चालकों की तरफ से यात्रियों को परेशान किए जाने को लेकर भी कई मामले सामने आए हैं। बस चालक पूरा किराया लेने के चक्कर में यात्रियों को परेशान करते हैं।

बस में सवार यात्री बस से उतरने के लिए कहते हैं तो चालक व परिचालक उनके द्वारा किराया न दिए जाने का हवाला देकर बस नहीं रोकते। जिसके कारण यात्री मजबूर होकर उतरने का प्रयास करते है। इस कारण निजी व सरकारी बसों में सवार यात्रियों के साथ पहले भी कई बार हादसे हो चुके हैं।