रोहतक [अरुण शर्मा]। बता मेरे यार सुदामा रे... फेम विधि देशवाल जल्द ही बड़े पर्दे पर भी दिखेगी। सुप्रसिद्ध निर्माता-निर्देशक सतीश कौशिक की फिल्म में विधि को मौका मिला है। हरियाणवी थीम पर तैयार होने वाली बॉलीवुड फिल्म 'छोरियां छोरों से कम नहीं' में विधि अभिनय करेगी। संभावना है कि फिल्म का मुख्य गीत भी विधि ही गाएगी। फिल्म इसी साल अक्टूबर में रिलीज हो सकती है।

घिलौड़ गांव की रहने वाली विधि के पिता सतीश किसान हैं, जबकि मां संतोष देशवाल गृहिणी हैं। बेटी विधि को फिल्मों में मौका मिले, यही परिवार की चाहत थी। सांघी स्थित स्कूल में दसवीं की छात्रा विधि फिल्म की शूटिंग में जुटी हुई है। पिता सतीश देशवाल कहते हैं कि 4 मार्च से शूटिंग शुरू हुई थी। फिल्म बेटी बचाओ का संदेश देगी। विधि को फिल्म में अहम किरदार मिला है।

सही गीत नहीं मिला तो नामी निर्देशक का ऑफर ठुकराया

बीते साल भी नामी निर्देशक का ऑफर आया था, लेकिन गीत के बोल ठीक नहीं थे, इसलिए विधि के परिवार ने फिल्म में गाने के ऑफर को ठुकरा दिया था। विधि के पिता सतीश कहते हैं कि बेटी को भजन के माध्यम से पहचान मिली, ऐसे में गलत बोल वाली किसी भी फिल्म में काम नहीं कराएंगे।

आठ करोड़ लोगों ने गीत को सुना और देखा

बेहद पुराने भजन को नए अंदाज में गाकर विधि रातों-रात दो साल पहले सुर्खियों में आई थीं। विधि के गीत बता मेरे यार सुदामा रे ... को सोशल मीडिया पर करीब आठ करोड़ लोगों ने देखा और सुना। विधि के पिता सतीश देशवाल दावा करते हैं कि करीब 25 करोड़ लोगों ने गीत को सुना है। इसके बाद विधि को देश के राष्ट्रपति से लेकर विभिन्न राज्यों के राज्यपालों ने सम्मानित किया था।

बालसभा में गाया था गीत, फिर बदल गई तकदीर

विधि खुद बताती हैं कि उनकी मां संतोष संबंधित भजन को गाती थीं। सांघी स्थित डा. स्वरूप सिंह राजकीय मॉडल संस्कृति सीनियर सेकेंडरी स्कूल में सातवीं बाल सभा के दौरान संबंधित गीत गाया था। भजन इतना सुरीला गाया था कि करीब दो साल पहले मुख्य गायिका के तौर पर बता मेरे यार सुदामा रे गाने का मौका मिला था।

यह भी पढ़ेंः प्रेमी जोड़ा कोर्ट पहुंचा शादी करने, फिर परिजनों ने जो सरेआम किया वो सबने देखा...

Posted By: Kamlesh Bhatt