पानीपत, जागरण संवाददाता। महराणा के पास घूमने के लिए स्कूटी पर आया दिवाना वासी 12वीं कक्षा का छात्र कुलदीप पैर फिसलने पर गिरने से नहर में डूब गया। उसे बचाने के लिए उतरे शिवराज को दोस्त आकाश ने निकाला लिया। घटना शुक्रवार शाम के समय की है। देर रात तक स्वजन कुलदीप की तलाश में लगे रहे, लेकिन कोई पता नहीं चल सका।

शिवराज ने आठ मरला चौकी पुलिस को दी शिकायत में बताया कि वह दिवाना गांव का रहने वाला है। शुक्रवार को शाम साढ़े चार बजे के करीब वो अपने ताऊ के बेटे कुलदीप (16) व दोस्त आकाश के साथ स्कूटी पर सवार होकर घूमने के लिए बिंझौल नहर की तरफ आया था। इस दौरान वो स्कूटी को महराणा के पास नहर किनारे खड़ी कर आपस में बातचीत कर रहे थे। तभी बगल में खड़े कुलदीप का पैर फिसल गया। जिस कारण वो नहर में जा गिरा। उसे देख शिवराज ने बचाने के लिए नहर में छलांग लगा दी, लेकिन तैरना नहीं जानने के कारण वो भी डूबने लगा। तभी तीसरे साथी आकाश ने किसी तरह से पैर पकड़ा उसे बचाया। परंतु कुलदीप को नहीं बचा सके। पुलिस ने शिवराज के बयान पर अज्ञात के खिलाफ भादस की धारा 365 के तहत केस दर्ज कर लिया है।

इधर, लापता बच्चों की तत्काल दें सूचना, पोर्टल पर होगी अपलोड-निधि

पानीपत। जिला से एक साल में 50 से ज्यादा बच्चे-किशोर लापता-गुमशुदा होते हैं। ऐसे बच्चों की तत्काल सूचना देने के लिए जिला बाल संरक्षण अधिकारी निधि गुप्ता ने संबंधित एजेंसियों के हेल्प लाइन नंबर जारी किए हैं।

उन्होंने बताया कि ऐसे बच्चों की सूचना जितनी जल्द मिलगी, उतनी ही जल्दी खोया-पोया पोर्टल पर अपलोड कर दी जाती है। बच्चा किसी दूसरे जिला-राज्य में पाया जाता है तो उसकी सूचना संबंधित एजेंसियों और माता-पिता को जल्द मिल सकती है। गुमशुदा बच्चों की शिकायत माता-पिता, कानूनी रूप से अभिभावक दर्ज करा सकते हैं।

इनके अलावा बाल कल्याण समिति, रिश्तेदार, गैर सरकारी संगठन, लोक सेवक, वह व्यक्ति जिसे गुम हुआ बच्चा मिला हो भी रिपोर्ट दर्ज करवा सकते हैं।

ये हैं हेल्पलाइन नंबर

0180-2641574 जिला बाल संरक्षण अधिकारी कार्यालय।

0180-2642574 जिला बाल कल्याण समिति कार्यालय।

0180-2640574 जिला किशोर न्याय बोर्ड कार्यालय।

9996270564 अशोक कुमार सदस्य जिला बाल संरक्षण समिति।

1098 चाइल्ड हेल्पलाइन नंबर।

Edited By: Anurag Shukla