तरावड़ी (करनाल), संवाद सहयोगी। करनाल-कुरुक्षेत्र सीमा स्थित समानाबाहू गांव के पास मन्नत सितारा ढाबे पर बीते दिनों कुरुक्षेत्र के एक युवक और उसके परिवार के साथ ढाबे के स्टाफ का जमकर विवाद हो गया। आरोप है कि इस दौरान रिसेप्शन पर मौजूद शख्स से लेकर अन्य स्टाफ ने युवक की लात-घूंसों और डंडों से इतनी पिटाई की कि वह बुरी तरह चोटिल हो गया। उसके दोस्तों की भी पिटाई की गई। घटना को लेकर युवक की ओर से थाना बुटाना में दी गई शिकायत के आधार पर मामला भी दर्ज कर लिया गया लेकिन छह दिन बाद भी पुलिस की ओर से कोई कार्रवाई नहीं की गई। इस बीच पूरे घटनाक्रम का वीडियो वायरल होने के साथ ही यह प्रकरण चारों तरफ चर्चा में है।

छह दिन बाद भी नहीं हुई कार्रवाई

दिल्ली नेशनल हाईवे पर गांव समाना बाहू के पास स्थित मन्नत ढाबे पर यह वाकया बीती 13 फरवरी का बताया जा रहा है। इसके तहत ढाबे पर कुरुक्षेत्र निवासी रवि नामक युवक अपने परिवार के सदस्यों व मित्रों सहित खाना खाने पहुंचा था। बताया जा रहा है कि इसी बीच उनका किसी बात को लेकर ढाबे के स्टाफ के साथ विवाद हो गया। आरोप है कि जब रवि ने स्टाफ के व्यवहार की शिकायत रिसेप्शन पर की तो वहां मौजूद शख्स काउंटर से डंडा निकालकर उस पर टूट पड़ा। रवि और उसके दोस्तों का आरोप है कि ढाबे का स्टाफ करीब 45 मिनट तक उन पर डंडे बरसाता रहा। यही नहीं, जब पिटाई के बाद युवक बेसुध हो गया तो भी उस पर लात घूंसे बरसाए जाते रहे। घटना के बाद किसी तरह वहां से बचकर निकले रवि और उसके साथियों ने थाना बुटाना पहुंचकर शिकायत दी तो पुलिस ने मामला दर्ज कर लिया लेकिन छह दिन बाद भी अभी तक पुलिस की ओर से कोई कार्रवाई नहीं की गई।

परिवार के लोगों में खौफ का माहौल बना

इस मामले में थाना बुटाना इंचार्ज कंवर सिंह ने बताया कि युवक व अन्य लोगों के बयान दर्ज किए जाने के बाद एफआइआर दर्ज कर ली गई थी। ढाबा प्रबंधन की ओर से भी मामले में शिकायत दी गई है, जिसमें कहा गया है कि युवक और उसके साथ आए लोगों ने स्टाफ से मारपीट की तथा सामान भी तोड़ा। मामले की जांच जारी है। वहीं, मारपीट के शिकार बने युवक रवि और उसके परिवार के लोगों में चिंता के साथ खौफ कायम है। उनका कहना है कि यह वाकया वे कभी नहीं भूल सकेंगे।

नया नहीं ऐसा विवाद

नेशनल हाईवे स्थित होटल, रेस्टोरेंट, ढाबाें पर इस प्रकार का यह पहला वाकया नहीं है। अक्सर, ग्राहकों से मनमाने पैसे वसूले जाने को लेकर विवाद उभरते रहे हैं तो कई बार ढाबों पर बैठकर शराब पीने या छेड़छाड़ के घटनाओं ने भी गंभीर रूप लिया है। कहने को पुलिस भी हर बार ऐसे मामले चर्चा में आने पर तो कार्रवाई करती है लेकिन कुछ समय बाद स्थिति एक बार फिर पहले जैसी हो जाती है।

Edited By: Naveen Dalal