-प्रतिबंध के बावजूद ड्रेन में डाल रहे केमिकलयुक्त पानी

-20 गांवों की पंचायत में प्रस्ताव पास कर विज से मिलेंगे ग्रामीण संवाद सहयोगी, सनौली : यमुना नदी के आंचल में बहने वाला पानी इस कदर जहरीला हो चुका है कि जीवों का भी उसमें बसर नहीं रहा। यही नहीं प्रतिबंध के बाद भी धड़ल्ले से फैक्ट्रियों का जहरीला पानी यमुना की गोद में समा रहा है। इसके कारण आसपास के गांवों के लोग भी बीमार हो रहे हैं। इस मामले में अब ग्रामीण बीस गांवों की पंचायत कर प्रस्ताव पास करेंगे और स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज से समस्या के समाधान की गुहार भी लगाएंगे।

गांव छाजपुर खुर्द में ओम जन जागरण समिति के सदस्यों एवं निवर्तमान सरपंच सोहनलाल छाजपुर खुर्द की अध्यक्षता में ग्रामीणों की पंचायत हुई। इस दौरान ग्रामीणों ने कहा कि सनौली रोड पर बड़ी तादाद में फैक्ट्रियां आ गई हैं, जो अपना जहरीला पानी यमुना तक पहुंचा रहीं हैं। इस पर तत्काल रोक लगनी चाहिए। निवर्तमान सरपंच सोहनलाल ने कहा कि 20 गांवों की पंचायतों को साथ लेकर स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज से मुलाकात कर हालात से अवगत कराया जाएगा। इस अवसर पर ओम जन जागरण समिति के अध्यक्ष रामदास, नरेश, सुमित कुमार, सन्नी, अभिषेक, सोनू, सुभाष, ओमप्रकाश, अभिनव, रविद्र, सुनील मौजूद रहे। गांव रसलापुर में जगह-जगह कूड़े के ढेर

संवाद सहयोगी, सनौली : निर्मल गांव रसलापुर में फिरनी व गलियों में जगह जगह सड़क किनारे गंदगी के ढेर लगे पड़े हैं। हालात इतने बदतर हो चुके हैं कि अगर थोड़ी सी हवा चल जाए तो गंदगी घरों में उड़कर आने लग जाती है। गंदगी ज्यादा फैलने के चलते लोगों को बीमारी फैलने का डर भी लगा रहता है।

गांव रसालापुर सहित आसपास के गांव छाजपुर, मौहाली, अधमी, जलमाना, मौहाली, कुराड की सड़क पर अतिक्रमण कर गोबर व कूड़ा-कर्कट के ढेर लगा रहे हैं। इसके अलावा खंड के अधिकतर गांवों में नालियां का गंदा पानी सड़कों पर फैल रहा है, जगह-जगह गंदगी के ढेर लगे हुए हैं। ग्रामीण राजपाल, बलवान, राजेंद्र, सतीश, महाबीर, सुरेश, नरेश, बलवान, महाबीर, रेखा, नीलम, सुनीता, रोशनी, रोशनी, सुनीता ने बताया कि कई जगह तो गंदगी ऐसी जगह पर डाली पर जा रही है, जोकि घरों के सामने पड़ती है। बीडीपीओ पंचायत अफसर एसईपीओ प्रमोद कुमार ने कहा कि गांव में स्वच्छता बनाए रखना ही प्राथमिकता है।