पानीपत/कुरुक्षेत्र, [विनीश गौड़]। स्वास्थ्य विभाग के चिकित्सकों ने आरोग्य सेतु एप के जरिये दो दिन में घर बैठे 933 लोगों के स्वास्थ्य की जांच की है। इन मरीजों में से 694 लोग स्टेबल मिले हैं, जबकि 11 लोगों में फ्लू के लक्षण पाए गए। स्वास्थ्य विभाग ने इन 11 मरीजों को चिन्हित कर तीन की कोरोना जांच भी की है। वहीं बाकी मरीजों को सामान्य दवा लेने या परहेज रखने का परामर्श दिया गया है। इनमें से एक मरीज को होम क्वारंटाइन रहने की सलाह भी दी गई है। 

डिप्टी सिविल सर्जन डॉ. रमेश सभ्रवाल ने बताया कि आरोग्य सेतू एप पर पंजीकरण करके जिले के 933 लोगों ने घर बैठे-बैठे खांसी, बुखार के लक्षण बताए थे। दो दिन में विभाग के चिकित्सकों ने इन मरीजों को मोबाइल पर संपर्क किया। इनसे बातचीत की गई और 694 लोगों को स्टेबल पाया गया। जबकि 14 लोगों ने अपने नंबर की कॉल कहीं दूसरी जगह फॉरवर्ड की हुई थी। इनमें से 129 लोगों ने फोन नहीं उठाया और 84 लोगों का मोबाइल सिम नंबर उपलब्ध नहीं मिला, जबकि 11 मरीजों को फ्लू के लक्षणों वाला मानते हुए उन्हें उपचार का परामर्श दिया गया। इन्हें एंबुलेंस के जरिये अस्पताल में बुलाया गया, जिनमें से तीन मरीजों के कोरोना जांच के लिए सैंपल लिए गए हैं। 

ऐसे काम करता है आरोग्य सेतु एप 

आरोग्य सेतु एप डाउनलोड करके मोबाइल से पंजीकरण करें। नाम, उम्र डालने के बाद सवाल पूछा जाता है कि आपको खांसी, जुकाम या बुखार में से कोई लक्षण तो नहीं है। हां या न में उत्तर देना होता है। इसके बाद यह भी सवाल होता है कि कहीं आपने विदेश यात्रा तो नहीं कि या कोरोना वायरस से संंबंधित किसी व्यक्ति के संपर्क में तो नहीं आए। अगर हां करते हैं तो आपके पास फोन आने का संदेश मोबाइल पर आ जाता है। इसके बाद स्वास्थ्य विभाग के चिकित्सक फोन करके मरीज से जानकारी मांगते हैं। एप में यह प्रश्न भी पूछा जाता है कि क्या आप यह जानकारी स्वास्थ्य विभाग से सांझा करना चाहते हैं या नहीं। 

कुरुक्षेत्र में 94,868 लोग डाउनलोड कर चुके एप

डीसी धीरेंद्र खडग़टा ने बताया कि जिले में अब तक 94,868 लोग आरोग्य सेतु एप डाउनलोड कर चुके हैं और इसका नियमित रूप से प्रयोग कर रहे हैैं। भारत में कोरोना मरीजों की संख्या, सरकार द्वारा समय-समय पर जारी की जा रही एडवाईजरी, आयुष चिकित्सा,  आपके आसपास कोरोना मरीज की दूरी, आपके राज्य, जिले, शहर, गांव में कितने कोरोना पॉजिटव मरीज है सहित विभिन्न प्रकार अन्य जानकारी इस एप के माध्यम से प्राप्त की जा सकती है। उन्होंने कहा कि इस महामारी के खिलाफ भारत की लड़ाई में यह एप एक आवश्यक साधन साबित होगा। उन्होंने अपील की है कि खुद भी इसे डाउनलोड करें और अपने नजदीकी लोगों को इस बारे में जानकारी दें। 

कैथल में 69 हजार 350 लोगों ने डाउनलोड किया आरोग्य सेतु एप 

कैथल में अब तक 69 हजार 350 लोग आरोग्य सेतु एप डाउनलोड कर चुके हैं। डीसी सुजान सिंह ने बताया कि यह एप लोगों को कोरोना वायरस संक्रमण के खतरे के बारे में आगाह करता है। यदि कोई कोरोना पॉजिटिव व्यक्ति छह फीट के दायरे में आता है तो तुरंत संदेश आने शुरू हो जाएंगे। यह एप कोरोना के प्रति आप को अलर्ट कर देगा। यह कई भाषाओं में उपलब्ध है। उन्होंने बताया कि देश में कोरोना पॉजिटिव से संबंधित नागरिकों का डाटा भी सरकार के पास उपलब्ध है। ऐसे में सरकार चाहती है कि इस तकनीक का ज्यादा से ज्यादा लाभ उठाया जाए। मंडी से जुड़े सभी अधिकारियों को निर्देश दिए गए हैं कि वे किसानों के मोबाइल में यह एप डाउनलोड कराएं। इसी प्रकार कृषि व पशुपालन विभाग के अधिकारियों को भी ऐसा करने को कहा गया है।

पानीपत की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें 

Edited By: Anurag Shukla