जागरण संवाददाता, पानीपत : पुलिस की ढीली कार्यप्रणाली से गोतस्कर बेखौफ हैं। शनिवार देर रात 11.30 बजे सूचना देने के एक घंटे तक एक थाने और दो चौकियों की पुलिस सेक्टर-12 नवाकोट गुरुद्वारा के पास नहीं पहुंची। इसी का फायदा गोतस्करों ने उठाया और गोरक्षक पर फाय¨रग और पथराव करएक गाड़ी में गोवंश लादकर फरार हो गए। गोरक्षक के विरोध के कारण दूसरी गाड़ी में गोवंश नहीं भर पाए। गोतस्करों के हमले में गोरक्षक रिंकू घायल हो गया। अब पुलिस लकीर पीट रही है और 8-10 गोतस्करों के खिलाफ केस दर्ज कर इतिश्री कर ली है। उधर, पुलिस दावा कर रही है कि सूचना मिलते ही थाना चांदनी बाग और सनौली पुलिस ने तस्करों की तलाश की थी।

-----------

बेखौफ तस्कर, ढीली पुलिस

संजय कालोनी निवासी ¨रकू ने बताया कि वह गोरक्षा दल हरियाणा का सदस्य है। शनिवार देर रात गोरक्षा दल के एक सदस्य अशोक बराना ने उसे फोन पर सूचना दी कि गोतस्कर दो बोलेरो पिकअप में सेक्टर 12 नवाकोट गुरुद्वारा के पास से गोवंश लाद रहे हैं। इस पर रिंकू बाइक से नवाकोट गुरुद्वारा के पास पहुंचा। तब एक पिकअप गाड़ी में गोवंश लाद चुके थे। दूसरी गाड़ी में एक गोवंश डाला गया। रिंकू ने गोरक्षक गौरव और अशोक को इसकी सूचना दी। तस्करों ने उसे देख लिया और वे गाड़ी लेकर ऊझा रोड की तरफ भाग गए। उसने बाइक से पीछा किया तो गाड़ी में बैठे पांच-छह तस्करों ने उस पर पथराव कर दिया। पत्थर उसके सिर में लगा और वह गिर गया। किसी तर उठकर उसने फिर तस्करों का पीछा किया। तभी तस्कर ने उस पर गोली चला दी, लेकिन वह बच गया। तस्कर गाड़ी सहित फरार हो गए। अशोक ने भी तस्करों का पीछा किया, लेकिन तस्कर पकड़ में नहीं आ पाए। ¨रकू को पहले हैदराबादी अस्पताल और फिर नागरिक अस्पताल में भर्ती कराया। पुलिस ने ¨रकू की शिकायत पर आठ-दस गोतस्करों के खिलाफ हत्या के प्रयास एवं पशु क्रूरता अधिनियम के तहत केस दर्ज कर लिया है।

--------

पुलिस को की 12 कॉल

¨रकू ने बताया कि उसने और गौरव ने 11:30 से 12:30 बजे के बीच करीब 12 कॉल कर थाना चांदनी बाग और कंट्रोल रूम को सूचना दी। पुलिस मौके पर नहीं पहुंची। इतना ही नहीं गोतस्कर सेक्टर 11-12 चौकी, थाना चांदनी बाग, बलजीत नगर नाका चौकी, थाना सनौली पुलिस की परवाह न करके सूखी यमुना के घाट से उत्तर प्रदेश में भाग गए।

----------

बेखौफ तस्करों ने 42 दिन बाद फिर की वारदात

पुलिस गोतस्करों पर नकेल नहीं डाल पा रही है। गोतस्कर कई बार गोरक्षकों पर फायरिंग कर चुके हैं। 17 फरवरी को कंटेनर में सवार तस्करों ने डाहर टोल प्लाजा के पास गोरक्षकों पर गोलियां चलाई थीं। इस मामले में दो तस्करों की गिरफ्तारी हो चुकी है। 26 जनवरी को भी ऊझा के पास तस्करों ने गोरक्षकों की गाड़ी पर 20 से ज्यादा फायर किए थे।

--------

तस्करों से घबराती पुलिस : आर्य

गोरक्षा दल हरियाणा के प्रदेश उपाध्यक्ष आजाद आर्य ने कहा कि गोतस्करों को पकड़ने में पुलिस फेल है। तस्कर गोलियां बरसाकर गोवंश ले जाते हैं, लेकिन पुलिस उन्हें पकड़ नहीं पाती। पुलिस भी हथियारबंद तस्करों से घबराती है।

----------

वर्जन

गोरक्षक की सूचना मिलते ही थाना चांदनी बाग, बलजीत नगर नाका चौकी और सनौली थाना पुलिस तस्करों की तलाश में जुटी रही। तस्कर यमुना के रास्ते भाग गए। युमना के आसपास पुलिस ने पहरा बढ़ा दिया है। तस्करों पर नजर रखी जा रही है।

-जगदीप दूहन, डीएसपी मुख्यालय, पानीपत।

----------

Posted By: Jagran