चंडीगढ़, जेएनएन। गोवा के मुख्यमंत्री डा. प्रमोद सावंत ने कहा कि हरियाणा की भाजपा नेत्री सोनाली फोगाट की हत्‍या के मामले में कहा कि मामला की जांच सीबीआइ को दे दी गई। लेकिन, गाेवा पुलिस भी अच्‍छे से इस मामले में काम कर रही है। पूरे मामले में सच्‍चाई सबके सामने आएगी।  

उन्‍होंने कहा कि सोनाली फोगाट के परिवार की मांग पर हत्या की जांच सीबीआई को दे दी है, सीबीआई जांच कर रही है। गोवा पुलिस ने भी अच्छे से जांच कर रही है। इस मामले में ड्रग पैडलर्स के नाम आए हैं। हम ड्रग पैडलर्स पर बड़ी कार्रवाई कर रहे हैं। गोवा ड्रग्स के लिए नहीं है।

गोवा के मुख्यमंत्री ने खारिज किए सबूत मिटाने के आरोप

इसके साथ ही डा. सावंत ने हत्या के मामले में गोवा पुलिस द्वारा सही तरीके से जांच नहीं करने और सबूतों को मिटाने के आरोपों को खारिज कर दिया। गोवा पुलिस की कार्यप्रणाली पर संतुष्टि जताते हुए सावंत ने कहा कि पुलिस ने जांच अच्छे से की। परिजनों की मांग पर जांच अब सीबीआइ को सौंपी जा चुकी है और पुलिस ने तमाम साक्ष्य केंद्रीय जांच एजेंसी को उपलब्ध करा दिए हैं।

यह भी पढ़ें: Goa CM सावंत का कांग्रेस की भारत जोड़ो यात्रा पर सवाल, कहा- ऐसी सोच दिखाती तो 14 साल पहले गोवा हो जाता आजाद

कहा, अवैध ढंग से बना था कार्लीज क्लब, न्यायालय का स्टे हटते ही ढहाया

गोवा के मुख्यमंत्री ने स्पष्ट किया कि कार्लीज क्लब को अवैध ढंग से बनाया गया था। न्यायालय का स्टे हटते ही इस क्लब को ढहा दिया गया। इसे सोनाली की हत्या के सबूत मिटाने से जोड़कर नहीं देखा जाना चाहिए। बता दें कि 23 अगस्त को गोवा के कार्लीज क्लब में हरियाणवी कलाकार और भाजपा नेत्री सोनाली फोगाट की हत्या कर दी गई थी। हत्या के आरोप में गोवा पुलिस ने सोनाली के निजी सचिव सुधीर सांगवान सहित पांच अन्य लोगों को गिरफ्तार किया था। सोनाली की मौत का कारण ड्रग की ओवरडोज बताया गया है।

गोवा पर्यटन की राजधानी, नशे की नहीं

डा. प्रमोद सावंत ने कहा कि गोवा पर्यटन की राजधानी है, ड्रग्स के लिए नहीं। ड्रग के खिलाफ सरकार पूरी तरह सख्त है। नशे के कारोबार और सेवन करने वालों पर पुलिस कड़ी कार्रवाई कर रही है। सोनाली हत्या मामले में भी कई ड्रग पैडलर्स के नाम आए हैं। गोवा सरकार ड्रग पैडलर्स पर बड़ी कार्रवाई कर रही है। हाल ही में तीन ड्रग्स विक्रेताओं को सजा भी हुई है। मुख्यमंत्री ने दावा किया कि गोवा में पर्यटक पूरी तरह सुरक्षित हैं। पर्यटकों की सुरक्षा के लिए गोवा पुलिस 24 घंटे ड्यूटी देती है।

गोवा में ओला-उबर की तर्ज पर चलेंगी एप आधारित टैक्सी

गोवा के मुख्यमंत्री ने कहा कि पर्यटकों की सहूलियत के लिए जल्द ही ओला-उबर की तर्ज पर एप आधारित टैक्सी चलाई जाएंगी। इससे पर्यटक आसानी से अपने गतंव्य तक पहुंच सकेंगे। वर्तमान में गोवा में टैक्सी संचालकों की मनमानी के चलते पर्यटकों को आवागमन में परेशानी का सामना करना पड़ता है। टैक्सी संचालकों की मनमानी को रोकने के लिए सरकार ने एप बेस टैक्सी चलाने का फैसला लिया है।

Edited By: Sunil kumar jha

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट