चंडीगढ़, [अनुराग अग्रवाल]। हरियाणा में पिछले साल जाट आरक्षण आंदोलन के दौरान हुए दंगों का दर्द फिल्मी परदे पर उतारने की तैयारी है। हरियाणवी मूल के निर्माता निर्देशक कुलदीप रूहिल ने जाट आरक्षण के नाम पर हुए दंगों की भयावह तस्वीर पर फिल्म बनाने का निर्णय किया है। फिल्म का नाम चीरहरण है, जिसके ट्रेलर ने प्रदेश भर में नई बहस छेड़ दी है। बताया जाता है कि फिल्‍म जाट आंदोलन के दौरान मुरथल में महिलाओं से गैंगरेप को भी फोकस किया गया है।

फिल्म के ढाई मिनट के ट्रेलर में मुख्यमंत्री मनोहर लाल और कैप्टन अभिमन्यु के भी कोट्स

बॉलीवुड अभिनेता रणदीप हुड्डा ने सोशल मीडिया पर इस फिल्म का ढाई मिनट का ट्रेलर शेयर किया है, जिसे लोग खूब पसंद कर रहे हैं। कुलदीप रूहिल और रणदीप हुड्डा दोनों मूल रूप से रोहतक जिले के रहने वाले हैैं। रणदीप हुड्डा ने इसका ट्रेलर अपने फेसबुक और ट्विटर अकाउंट पर साझा किया तो एक दिन में ही इसे एक लाख 53 हजार से ज्‍यादा लोग देख चुके थे।

फिल्‍म चीरहरण के बारे में जानकारी देते बाॅलीवुड अभिनेता रणदीप हुड्डा।

सांसद राजकुमार सैनी, रोशनलाल आर्य व यशपाल सिंघल के बयान भी ट्रेलर में शामिल हुए

रणदीप हुड्डा के ट्विटर अकांउट पर भी हजारों लोगों ने फिल्‍म 'चीरहरण' को लेकर अपनी राय जाहिर की है। जाट आरक्षण आंदोलन के दौरान भड़की हिंसा के बाद रणदीप हुड्डा कई मौकों पर भाईचारे का संदेश देते नजर आए थे। बताया जाता है कि 'चीरहरण' के ट्रेलर में हरियाणा के जाट आरक्षण आंदोलन को देश के बड़े दंगों के रूप में दिखाया गया है।

यह भी पढ़ें: जूस पिलाने के बहाने बच्ची को ले गया, फिर पार्क में करने लगा गंदी हरकतें

ट्रेलर में इसे 'द अदर साइड ऑफ हरियाणा रायट्स' करार देते हुए फरवरी 2016 के समूचे घटनाक्रम का चित्रण किया गया। ट्रेलर में मुख्यमंत्री मनोहर लाल, वित्त मंत्री कैप्टन अभिमन्यु, पूर्व डीजीपी यशपाल सिंघल, सांसद राजकुमार सैनी, पूर्व विधायक रोशन लाल आर्य के साथ विभिन्न जाट नेताओं के कोट्स भी शामिल हैैं।

-----

कैप्टन बोले, पीडि़तों को मदद नहीं मिल रही

ट्रेलर में दंगों के दौरान रोहतक में मौजूद रहे कई युवाओं और जाट नेताओं के अलावा झज्जर जिले के पीडि़तों के विरोधाभासी बयान दिखाए गए। वित्त मंत्री कैप्टन अभिमन्यु का वह बयान भी है, जिसमें कैप्टन कह रहे हैं कि दंगों के समय किसी प्रकार की कोई मदद नहीं पहुंच रही।

यह भी पढ़ें: महिला कैदी बोली, जेल सुपरिंटेंडेंट ने कार्यालय में बुलाया और करने लगा छेड़छाड़

-----

सीएम और पूर्व डीजीपी के बयानों का हवाला

मुख्यमंत्री मनोहर लाल ट्रेलर में कहते हुए दिखाई दे रहे कि हमने पुलिस को निर्देश दे रखे हैं, जिसको पकड़ना है, उसका सबूत साथ रखें। पूर्व डीजीपी सिंघल दावा कर रहे कि मृतकों की संख्या 30 हो गई।

------

यह भी पढ़ें: होटल के कमरे में दो युवकों के साथ थी युवती, पुलिस छापे में खुला बड़ा सैक्‍स रैकेट

मुरथल गैंगरेप का भी ट्रेलर में जिक्र

ट्रेलर में मुरथल गैंगरेप मामले को लेकर मीडिया पर सवाल खड़े किए गए हैं। ट्रेलर में राजनीति के गंदे चेहरे की ओर इशारा करते हुए कैमरा भाजपा सांसद राजकुमार सैनी और पूर्व विधायक रोशन लाल आर्य पर फोकस किया गया है।

यह भी पढ़ें: कोख में आ गई बेटी तो कराया गर्भपात, पत्नी की मौत हुई तो शव फ्रिज में छिपाया

Posted By: Sunil Kumar Jha