जेएनएन, चंडीगढ़। भाजपा को हरियाणा कांग्रेस के दिग्गजों के बीच चल रही लड़ाई बहुत रास आ रही है। पूर्व मुख्यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्डा और प्रदेश अध्यक्ष अशोक तंवर द्वारा एक दूसरे पर लगाए जा रहे टिकट बेचने के आरोपों पर भाजपा टिप्‍पणी करने से बाज नहीं आ रही। भाजपा की सोशल मीडिया विंग ने कहा है कि कांग्रेस में टिकट खाली हाथ नहीं मिलते।

हरियाणा कांग्र्रेस के अध्यक्ष अशोक तंवर ने पिछले दिनों लोकसभा की सभी दस सीटों पर उम्मीदवारों के नामों का गुप्त सर्वे कराया था। इस सर्वे में हुड्डा समर्थक दावेदारों के नाम लगभग गायब थे। सर्वे के सार्वजनिक होने के बाद हुड्डा ने टोहाना में खुले तौर पर कह दिया कि कांग्रेस में टिकट बिकने नहीं दूंगा। हालांकि उन्होंने तंवर का नाम नहीं लिया था, मगर इशारा उन्हीं की तरफ था।

यह भी पढ़ें: अब पौधे खुद बताएंगे लगी है प्‍यास और मांगेंगे पानी, नई खोज डाल देगी अचरज में

हुड्डा का यह बयान आने के बाद अशोक तंवर ने भी पलटवार करते देर नहीं लगाई। रोहतक के कलानौर में एक जनसभा के दौरान तंवर ने भी हुड्डा का नाम लिए बगैर जवाब दिया कि वह भी पार्टी में टिकट नहीं बिकने देंगे। दोनों के बयान हालांकि एक दूसरे को घेरने की रणनीति का हिस्सा हैैं, लेकिन भाजपा ने इस लड़ाई का राजनीतिक फायदा उठाते हुए देर नहीं लगाई।

मुख्यमंत्री मनोहर लाल के मीडिया सलाहकार राजीव जैन ने कांग्रेस के दोनों दिग्गजों की रिकार्डिंग मुख्यमंत्री और प्रदेश अध्यक्ष सुभाष बराला को सुनाई। उसके तुरंत बाद भाजपा संगठन ने हुड्डा और तंवर को निशाने पर लेते हुए उनसे पूछ लिया कि क्या कांग्रेस में टिकट राहुल गांधी बेच रहे हैैं।

यह भी पढ़ें: गूगल की भी 'अम्‍मा' हैं चौथी तक पढ़ीं कुलवंत कौर, इनकी प्रतिभा जान रह जाएंगे हैरान

भाजपा ने मांग की कि अगर हुड्डा और तंवर टिकट बेचने वालों के नाम उजागर नहीं करते तो राहुल गांधी को खुद इसके बारे में स्थिति स्पष्ट करनी चाहिए। चुनाव अब नजदीक हैैं। लिहाजा दोनों कांग्रेस दिग्गजों की इस लड़ाई को भाजपा अपने पक्ष में भुनाने का कोई मौका हाथ से नहीं जाने देना चाहती।

हरियाणा की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

 

पंजाब की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

Posted By: Sunil Kumar Jha