चंडीगढ़, जेएनएन। Haryana Government Pension Hike: हरियाणा में सरकार ने बुढ़ापा और विधवा भत्‍ता सहित सभी सामाजिक पेंशन व भत्‍ते में वृद्धि कर दी है। यह वृद्धि अप्रैल माह से प्रभावी होगी। हरियाणा में पहली अप्रैल से विभिन्न सामाजिक सुरक्षा योजनाओं के तहत देय पेंशन, भत्ते और वित्तीय सहायता में बढ़ाेतरी के प्रस्‍ताव को आज कैबिनेट की बैठक में मुहर लगा दी गई।

अब राज्‍य में वृद्धावस्था सम्मान भत्ता, विधवा एवं निराश्रित महिला पेंशन, निशक्तजन पेंशन, लाडली सामाजिक सुरक्षा भत्ता, बौना भत्ता और किन्नर भत्ता को 2250 रुपये से बढ़ाकर 2,500 रुपये प्रति माह किया गया है। निराश्रित बच्चों को 1350 रुपये की बजाय 1600 रुपये प्रति माह और विद्यालय नहीं जाने वाले निशक्त बच्चों को 1650 के बदले 1950 रुपये प्रति माह दिए जाएंगे।

कोरोना मरीजों के उपचार में काम आने वाली वस्तुओं पर जीएसटी की होगी प्रतिपूर्ति

मुख्यमंत्री मनोहर लाल की अध्‍यक्षता में मंगलवार को हुई मंत्रिमंडल की बैठक में कोरोना मरीजों के उपचार में काम आने वाली वस्तुओं पर जीएसटी (राज्य, केंद्र और आइजीएसटी) की प्रतिपूर्ति देने का भी निर्णय लिया गया है। यह योजना 30 जून तक लागू रहेगी। कोविड संबंधित वस्तुओं पर जीएसटी की प्रतिपूर्ति से दानदाता उत्साहित होंगे। हालांकि जीएसटी की प्रतिपूर्ति तभी की जाएगी जब कोविड संबंधित सामग्री सरकारी अस्पतालों या स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग द्वारा अधिकृत अस्पताल और संस्थानों को मुफ्त में दान की गई वस्तुओं पर ही जीएसटी की प्रतिपूर्ति की जाएगी।

निराश्रित बच्चों को 1350 रुपये की बजाय दिए जाएंगे हर महीने 1600 रुपये

कोरोना की दूसरी लहर में प्रदेश में तरल चिकित्सा आक्सीजन और अन्य स्वास्थ्य उपकरणों जैसे वेंटिलेटर, दवाओं आदि की भारी कमी का सामना करना पड़ा था। स्वास्थ्य बुनियादी ढांचे और उपकरणों को बढ़ाने के लिए बड़ी संख्या में कारपोरेट, गैर सरकारी संगठन (एनजीओ) और विभिन्न वर्गों से जुड़े लोग ऐसी वस्तुएं दान करने के लिए आगे आ रहे हैं।

जानें अब कितनी पेंशन और भत्‍ते मिलेंगे-

  • - वृद्धावस्‍था सम्‍मान पेंशन - 2250 से 2500 रुपये हुई।
  •  -विधवा व निराश्रित महिला पेंशन - 2250 से 2500 रुपये हुई।
  • - निशक्‍तजन पेंशन- 2500 रुपये हुई।
  • - लाडली सामाजिक सुरक्षा भत्‍ता- 2250 से बढ़कर 2500 रुपये।
  • बौना भत्‍ता व किन्‍नर भत्‍ता- 2500 रुपये मिलेंगे।

 

Edited By: Sunil Kumar Jha