जागरण संवाददाता तावडू :

नूंह जिले के नगीना खंड के गांव मोहलाका में दलित परिवार का धर्म परिवर्तन के लिए उत्पीड़न करने का मामला गर्मा गया है। महर्षि वाल्मीकि फाउंडेशन के प्रतिनिधियों ने इस संदर्भ में पीड़ित परिवार से मुलाकात की है। फाउंडेशन के समक्ष पीड़ितों ने अपनी व्यथा प्रकट की तथा न्याय दिलाने की बात कही। वहीं फाउंडेशन प्रतिनिधियों ने पीड़ितों को आश्वस्त करते हुए कहा कि मामले को किसी भी सूरत में दबने नहीं दिया जाएगा तथा शुक्रवार को राष्ट्रीय अनुसूचित जाति आयोग के अध्यक्ष से इस संदर्भ में मुलाकात होगी।

महर्षि वाल्मीकि फाउंडेशन के प्रदेश उपाध्यक्ष व दलित नेता अधिवक्ता ओमबीर ¨सह, मामचंद चौहान, सुभाष, रवि, प्रमोद, राजबीर, अशोक, महेंद्र कुमार ने कहा कि बृहस्पतिवार को पीड़ित दलित श्रीकिशन के परिवार से फाउंडेशन सदस्यों ने मुलाकात की है। पीड़ितों ने रोते हुए बताया कि पुलिस इस गंभीर प्रकरण को दबाने में पूरजोर तरीके से जुटी है। गांव के विशेष समुदाय के लोग फैसले के लिए दबाव बना रहे हैं। जान-माल की सुरक्षा के मद्देनजर सरकार व प्रशासन उनके परिवार की सुरक्षा सुनिश्चित करें। पीड़ितों ने इस मामले को राष्ट्रीय अनुसूचित जाति आयोग तक ले जाने को लेकर फाउंडेशन सदस्यों को एक ज्ञापन भी दिया। वहीं फाउंडेशन प्रतिनिधियों ने कहा कि शुक्रवार को ही आयोग के चेयरमैन से उनका प्रतिनिधिमंडल मुलाकात करेगा तथा महामहिम राष्ट्रपति व प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को इस संदर्भ में पत्र भी लिखा जाएगा। प्रतिनिधियों ने ये भी कहा कि ये बेहद गंभीर मामला है तथा सरकार इस और गंभीरतापूर्वक ध्यान देकर पीड़ितों को न्याय दिलाए तथा उनकी सुरक्षा सुनिश्चित करें।

-----------------------

इस संदर्भ में एसपी से रिपोर्ट ली जाएगी। आरोपी जल्द ही पुलिस गिरफ्त में होंगे।

डा. सीएस राव, आईजी, रेवाड़ी रेंज।

By Jagran