Move to Jagran APP

Eid Al-Adha 2024: देश में अमन चैन की दुआ के साथ उठे हाथ, हर्षोल्लास के साथ मनाया जा रहा बकरीद का त्यौहार

नूंह शहर में ईदगाह में मौलाना खालिद ने बकरीद की नमाज पढ़ाई गई। इसके अलावा बह अड्डे वाली मस्जिद बालाजी पेट्रोल पंप के पास बने मदरसे में भी बकरीद की नमाज पढ़ाई गई। यहां पर बड़ी संख्या में मुस्लिम समुदाय के लोगों ने नमाज अदा की। इसके अलावा नगीना फिरोजपुर झिरका पुन्हाना व बड़े-बड़े गांवों में ईद की विशेष नमाज पढ़ाई गई।

By Jagran News Edited By: Abhishek Tiwari Mon, 17 Jun 2024 11:07 AM (IST)
Eid Al-Adha 2024: हर्षोल्लास के साथ मनाया जा रहा बकरीद का त्यौहार

जागरण संवाददाता, नूंह। सोमवार को ईद-उल-अजहा (बकरीद) की नमाज के मौके पर लोगों ने देश में अमन शांति हुए भाईचारे की दुआएं मांगी। जिले में बकरीद का त्योहार हर्षोल्लास के साथ मनाया गया। इस दौरान पुलिस प्रशासन की तरफ से सुरक्षा की दृष्टि से पुलिस बल भी तैनात किया था।

नूंह शहर में ईदगाह में मौलाना खालिद ने बकरीद की नमाज पढ़ाई गई। इसके अलावा बह अड्डे वाली मस्जिद, बालाजी पेट्रोल पंप के पास बने मदरसे में भी बकरीद की नमाज पढ़ाई गई। यहां पर बड़ी संख्या में मुस्लिम समुदाय के लोगों ने नमाज अदा की। इसके अलावा नगीना, फिरोजपुर झिरका, पुन्हाना व बड़े-बड़े गांवों में ईद की विशेष नमाज पढ़ाई गई।

मौलाना खालिद ने ईद की नमाज के बाद कहा कि कुर्बानी अपने घरों पर करें। सड़कों पर गंदगी न फैलाएं। उन्होंने पानी को बचाने पर विशेष जोर देते हुए कहा कि पानी की बर्बादी न की जाए।आपसी भाईचारा कायम रखें और सभी एक दूसरे का सहयोग करें।

उपमंडल के बड़े गांव मालब में मौलाना मतलूब ने बकराईद की नमाज लोगों को पढ़ाई उन्होंने इस मौके पर देश में अमन चैन व शांति की दुआ कराई तथा लोगों से कहा की कुर्बानी करते वक्त दूसरे समुदाय के लोगों का विशेष ध्यान रखा जाए। किसी को भी ठेस न पहुंचाई जाए।

उन्होंने कहा कि लोग प्रतिबंध पशु की कुर्बानी कतई न करें, यह जायज नहीं है। जिले के गांव घासेड़ा, अडबर, सिंगार, साकरस के अलावा बड़े-बड़े गांव में भी गांव के लोगों ने भारी संख्या में बकरा ईद की नमाज अदा की।

सुरक्षा की दृष्टि से फिरोजपुर झिरका, नूंह , तावडू व पुन्हाना में ड्यूटी मजिस्ट्रेट लगाकर पुलिस प्रशासन ने पुलिस सुरक्षा के बंदोबस्त किए हुए थे। पुलिस के उच्च अधिकारी ने दिन भर पूरी नजर बनाए रखी।