Move to Jagran APP

नारनौल के नावता गांव में दो साधुओं की हत्या, इलाके में फैली सनसनी

Narnaul News दोनों साधुओं के सिर पर चोट के निशान है जिससे दोनों की साधुओं की हत्या की आंशका है। दोनों साधू राजस्थान सीमा के गांव नावता के कच्चे रास्ते पर खून से लथपथ मिले हैं। दोनों की उम्र करीब 40-45 बताई जा रही है। फिलहाल पुलिस आसपास के साधुओं से संपर्क कर मृतकों की पहचान करने में जुटी हुई हैं।

By Jagran News Edited By: Abhishek Tiwari Sun, 02 Jun 2024 12:27 PM (IST)
नारनौल के नावता गांव में दो साधुओं की हत्या, इलाके में फैली सनसनी

जागरण संवाददाता, नारनौल। नारनौल क्षेत्र के गांव गोद बलाहा से सटे नावता गांव में दो साधुओं के शव मिलने से आसपास के गांवों में सनसनी फैल गई। दोनों साधुओं के सिर पर चोट के निशान है, जिससे दोनों की साधुओं की हत्या की आंशका है। दोनों साधू राजस्थान सीमा के गांव नावता के कच्चे रास्ते पर खून से लथपथ मिले हैं।

साधुओं की पहचान करने में जुटी पुलिस

शव की सूचना मिलते ही बुहाना थाना के डीएसपी नोपाराम, थानाधिकारी राजपाल यादव पुलिस टीम के साथ मौके पर पहुंचे। जिसके बाद पुलिस ने दोनों शवों को कब्जे में लेकर बुहाना सरकारी अस्पताल में शव रखवा दिया है। अभी दोनों मृतकों की पहचान नहीं हो सकी है। पुलिस टीम अन्य साधुओं से संपर्क कर साधुओं की पहचान करने में जुटी हुई है।

इलाके में आग की तरफ फैल गई सूचना

मिली जानकारी के अनुसार नारनौल क्षेत्र के गांव गोद बलाहां से सटा राजस्थान के नावता गांव में शनिवार दोपहर को दो साधुओं के एक जगह पर शव पड़े होने की सूचना मिली। जिसके बाद शव मिलने की सूचना आग की तरफ आसपास के क्षेत्र में फैल गई। वहीं मौके पर पहुंची पुलिस ने हत्या की आंशका जताई हैं।

दोनों की अभी कोई पहचान नहीं हो सकी है। सूचना पर डीएसपी नोपाराम भाकर, थानाधिकारी राजपाल यादव अपनी टीम के साथ मौके पर पहुंचे। शव को बुहाना के अस्पताल की मोर्चरी में रखवा दिया है। पुलिस मामले की जांच कर रही हैं।

साधुओं के सिर में चोट के निशान है। माना जा रहा हैं कि दोनों साधुओं की हत्या कर शव को रास्ते में डाला गया है। दोनों की उम्र करीब 40-45 बताई जा रही है। फिलहाल पुलिस आसपास के साधुओं से संपर्क कर मृतकों की पहचान करने में जुटी हुई हैं।