Move to Jagran APP

School Bus Accident: स्कूल बस हादसे को लेकर बड़ा खुलासा, ड्राइवर को लेकर पता चली ये बात; 6 छात्रों की हुई थी मौत

जीएल पब्लिक स्कूल की बस के चालक धर्मेंद्र ने छात्रों को लाने से पहले अपने दो दोस्तों के साथ गांव सेहलंग में बैठकर शराब पी थी। इसके बाद वह बच्चों को लेने के लिए विभिन्न गांवों में पहुंचा था। पुलिस ने इस मामले में चालक के साथ शराब पीने के दो आरोपित दोस्तों को गिरफ्तार कर लिया है। स्कूल बस चालक ने शराब के नशे में बस दौड़ाई थी।

By Balwan Sharma Edited By: Geetarjun Sat, 13 Apr 2024 09:27 PM (IST)
दोस्तों संग शराब पीने के बाद छात्रों को लेने गया था स्कूल बस का ड्राइवर।

जागरण संवाददाता, नारनौल। जीएल पब्लिक स्कूल की बस के चालक धर्मेंद्र ने छात्रों को लाने से पहले अपने दो दोस्तों के साथ गांव सेहलंग में बैठकर शराब पी थी। इसके बाद वह बच्चों को लेने के लिए विभिन्न गांवों में पहुंचा था। पुलिस ने इस मामले में चालक के साथ शराब पीने के दो आरोपित दोस्तों को गिरफ्तार कर लिया है।

स्कूल बस चालक ने शराब के नशे में बस दौड़ाई थी। पुलिस ने आरोपितों के खिलाफ आईपीसी और मोटर व्हीकल एक्ट की संबंधित धाराओं के तहत मामला दर्ज कर कार्रवाई शुरू कर दी। मामले में कार्रवाई करते हुए पुलिस ने जांच करते हुए पता लगाया कि बस चालक ने सेहलंग में बस में अपने साथियों के साथ बैठकर शराब पी थी।

पुलिस ने सेहलंग के ही रहने वाले निट्टू उर्फ हरीश और संदीप को गिरफ्तार किया है। पुलिस ने जांच में पता लगाया कि आरोपित धर्मेंद्र(बस चालक) ने बस में बैठकर शराब पी और उसके बाद बच्चों को स्कूल के लिए लाने के लिए निकला था।

अभी तक पांच आरोपी गिरफ्तार

पुलिस इस मामले में अभी तक पांच आरोपितों को गिरफ्तार कर चुकी है। स्कूल की प्राचार्या दिप्पी, सचिव होशियार सिंह और चालक धर्मेंद्र को पहले ही गिरफ्तार किया हुआ है। आरोपित पुलिस रिमांड पर चल रहे हैं।

गांव खेड़ी तलवाना में बच्चों के स्वजन ने बस चालक के शराब के नशे में होने के कारण बस की चाबी ले ली थी और इस बारे में स्कूल प्रशासन से बात करने पर स्कूल प्रशासन ने अंजाम भुगतने को धमकी दी। जिसके बाद यह हादसा हो गया।

पुलिस अधीक्षक अर्श वर्मा के दिशा–निर्देशों में मामले में कार्रवाई के लिए डीएसपी कनीना के नेतृत्व में सीआईए महेंद्रगढ़, थाना शहर कनीना की टीमों का गठन किया गया। एसपी के निर्देशानुसार पुलिस द्वारा मामले में तत्परता से कार्रवाई की गई और आरोपितों के विरुद्ध मामला दर्ज कर तीन आरोपितों को गिरफ्तार कर लिया गया।

टीम ने बस चालक धर्मेंद्र वासी सेहलंग, स्कूल प्रिंसिपल दीप्ति वासी कनीना और होशियार सिंह वासी कनीना स्कूल के सचिव को गिरफ्तार किया। उन्हे शुक्रवार शाम न्यायालय में पेश कर पांच दिन के पुलिस रिमांड पर लिया गया, जिनसे पूछताछ की जा रही है।

स्कूल की कक्षा बारहवीं की छात्रा की शिकायत पर मामला दर्ज किया गया है। छात्र ने बस चालक, स्कूल प्रिंसिपल और स्कूल प्रशासन के विरुद्ध शिकायत दी। छात्रा ने बताया कि बस चालक शराब पिए हुए था। जिसको बार बार बस धीरे चलाने की कहने पर भी बस तेज चला रहा था और उन्हानी के पास बस पलट गई और पेड़ के टकराने से बस में बैठे बच्चे घायल हो गए और कुछ की मौके पर ही मौत हो गई।

छात्रा में शिकायत में बताया कि स्कूल बस में कोई भी हेल्पर नही था और न ही कोई महिला कर्मचारी नियुक्त थी। पुलिस ने छात्रा की शिकायत पर धाराओं के तहत थाना शहर कनीना में मामला दर्ज कर कार्रवाई शुरू कर दी।