जागरण संवाददाता, जींद : पंजाब के मोगा से दिल्ली जाने वाली 12044 मोगा शताब्दी एक्सप्रेस ट्रेन का 25 हजार लीटर तेल का टैंक टूट गया। घटना जाखल में गुरनये स्टेशन के पास ट्रेन की है। ट्रेन को स्टेशन पर ढाई घंटे रोका गया। ड्राइवर की सूझबूझ से बड़ा हादसा टल गया। बाद में सामान्य जनरेटर यान के साथ ट्रेन को दिल्ली के लिए रवाना किया गया।

ट्रेन मोगा से चलकर लुधियाना, संगरूर, टोहाना, जींद रोहतक होकर नई दिल्ली जाती है। इसके जींद पहुंचने का समय शाम 7.30 है, लेकिन टैंक टूटने की वजह से सोमवार को यह ट्रेन रात दस बजे के बाद जींद स्टेशन पर पहुंची थी।

----------------

हो सकता था बड़ा हादसा

डीजल टैंक के टूटने के 100 मीटर चलने के बाद ही ड्राइवर को ट्रेन में गड़बड़ी का आभास हो गया। ट्रेन रोकी और नीचे उतरकर देखा तो ट्रेन के इंजन के साथ लगे जनरेटर यान के नीचे डीजल का टैंक टूटा हुआ मिला। ट्रेन में एक आगे व एक पीछे दो टैंक लगे होते है। गाड़ी में मौजूद तकनीकी अधिकारियों की माने तो अगर इस ट्रेन को समय पर नहीं रोका जाता तो कुछ ही दूरी पर बड़ा हादसा हो सकता था। आग भी लग सकती थी। एसी से लेकर लाइट तक का कार्य इसी यान पर निर्भर होता है। इस यान को रिपेयर के लिए अब दिल्ली भेजा जाएगा।

---------------------

गाड़ी देरी से जरूर आई थी। लेकिन इसके कारणों का हमें कोई जानकारी नहीं हैं, क्योंकि यह दूसरे डीविजन का मामला है। जहां तक बात है डीजल टैंक के टूटने की तो हो सकता ऐसा हुआ हो।

-प्रेम किशोर, स्टेशन अधीक्षक, जींद।

Edited By: Jagran