आजाद भारत आंदोलन के बैनर तले पहले सरकार के खिलाफ नारेबाजी की गई जागरण संवाददाता, बहादुरगढ़ :

तीन कृषि कानूनों के खिलाफ चल रहे आंदोलन के बीच नए-नए मामले उठ रहे हैं। अब सोमवार को यहां टीकरी बार्डर पर बिल गेट्स का पुतला फूंका गया। अखिल भारतीय जाट आदर्श महासभा के अध्यक्ष दीपक राठी व उनके संगठन के कार्यकर्ता बिल गेट्स का पुतला लेकर पहुंचे। आजाद भारत आंदोलन के बैनर तले पहले सरकार के खिलाफ नारेबाजी की गई और फिर यह पुतला फूंका गया। प्रदर्शनकारियों का आरोप था कि बिल गेट्स किसानों के दुश्मन बने हुए हैं। आंदोलनकारियों ने कहा कि विश्व व्यापार संगठन के इशारे पर किसानों को उजाड़ने की कोशिश की जा रही है। भारत को विश्व व्यापार संगठन से अलग होना चाहिए। इससे पहले यहां पर सभा भी चली। कुलहिद किसान सभा के नेता कुलवंत सिंह ने आंदोलन के मंच से कहा कि केंद्र सरकार द्वारा सिर्फ पूंजीपतियों को फायदा पहुंचाया जा रहा है। वहीं संयुक्त किसान मोर्चा के सदस्य जगजीत सिंह दलेवाल किसानों का जत्था लेकर यहां पहुंचे। उन्होंने कहा कि यह आंदोलन सफल होकर रहेगा। भले ही सरकार कितने भी हथकंडे अपनाए और आंधी-तूफान आता रहे, लेकिन किसानों का हौसला कमजोर नहीं पड़ेगा। उन्होंने हरियाणा व पंजाब के किसानों से ज्यादा से ज्यादा संख्या में बार्डर पर पहुंचने का आह्वान किया। पंजाब किसान यूनियन के नेता सुखबीर कौर ने कहा कि टीकरी बार्डर पर गोंडा जिले से किसानों का जत्था यहां पहुंचा है। उन्होंने कहा कि जो भी किसान फिलहाल अपने घरों में हैं उन सभी को दिल्ली के बार्डरों पर पहुंचना चाहिए। आंदोलन में किसानों की संख्या ज्यादा से ज्यादा होनी चाहिए।

Edited By: Jagran