नारनौंद(हिसार), [सुनील मान]। कोथ कला मठ से चुनावी प्रचार करने के लिए डेरे के महंत सहित अन्य साधु भी गोरखपुर जाएंगे। यह बात मठ के महंत योगी शुक्राई नाथ ने कही। शुक्राईनाथ ने बताया कि यूपी में योगी कहीं से भी चुनाव लड़ कर जीत सकते हैं, लेकिन वह साधुओं की भूमि पर जीत का शंखनाद करेंगे। उन्होंने कहा कि योगी आदित्यनाथ ने यूपी को मिनी पाकिस्तान बनने से बचाया है और उन्होंने इस भूमि को स्वर्ग बनाने का अथक प्रयास किया है। वह काफी हद तक सफल भी रहे हैं। आज तक का इतिहास रहा है कि गोरखपुर विधानसभा से कोई भी साधु समाज का संत चुनाव नहीं हारा है। इसलिए उनको अग्रिम जीत की बधाई।

यूपी के चुनावी रण में मुख्यमंत्री योगी आदित्य नाथ को अयोध्या से चुनाव लड़ने पर मुहर लग चुकी थी लेकिन आखिरी समय में एक रणनीति के तहत बदलाव करते हुए उनको साधु समाज की जीत पक्की करने वाली विधानसभा गोरखपुर से चुनावी रण में उतारने का ऐलान कर दिया। इससे साधु समाज खासकर नारनौंद में नाथ समुदाय के सबसे बड़े मठ कोथ कलां के संतों में खुशी की लहर है। यहां टिकट का ऐलान होते ही साधुओं ने लड्डू बांटकर खुशियां मनाई।

मठ में योगी का दौरा हुआ था रद

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ योगी महासभा के राष्ट्रीय अध्यक्ष भी हैं और गोरखपुर नाथ समुदाय का केंद्र भी रहा है। गोरखपुर लोकसभा क्षेत्र से वह सांसद भी रह चुके हैं। साधु समाज में मान के आठ पीर माने गए हैं, जिनमें से हरियाणा प्रदेश के कोथ कला में स्थित दादा काला पीर मठ सबसे बड़ा माना जाता है और इस मठ में योगी आदित्यनाथ के नजदीकी योगी शुक्राईनाथ गद्दीसीन हैं। पिछले साल योगी आदित्यनाथ को इस मठ में आना भी था, लेकिन वह किन्ही कारणों से नहीं आ पाए थे उन्होंने अपना संदेश मठ के भेज कर यह वादा किया था कि वह भविष्य में कोथ कला के इस मठ में जरूर आएंगे।

Edited By: Rajesh Kumar