जागरण संवाददाता, हिसार : सिटी थाना पुलिस ने टिब्बा दानाशेर निवासी पवन सोनी के इस्तगासे के आधार पर टिब्बा दानाशेर के टेकचंद समेत नौ लोगों के खिलाफ घर में घुसकर तोड़फोड़ करने और लोहे का 250 किलो का गेट चुराने का केस दर्ज किया है। पवन सेंट्रल जेल में सजा काट रहा है। यह मामला टिब्बा दानाशेर के तिहरे हत्याकांड प्रकरण से जुड़ा है। तीन मृतक भाइयों के कुनबे के लोगों पर आरोप लगा है।

जेल में बंद पवन ने अदालत में इस्तगासा दायर कर कहा कि वह 11 मार्च 2011 के हत्या के मुकदमे के संबंध में सजा भुगत रहा है। उसने टिब्बा दानाशेर के टेकचंद, कुलदीप पुत्र टेकचंद, दिनेश पुत्र टेकचंद, शरबती, कांता, ममता, कन्हैया, रोशन और सतपाल को नामजद किया है। उसने कहा कि हमारा घर बंद पड़ा है। उसके परिवार के सभी पुरुष सदस्य जेल में बंद हैं और महिलाएं डर के मारे इधर-उधर रह रही हैं। उनकी मां तारादेवी रिश्तेदारों के पास लाहौरिया चौक के पास रहती हैं। हमने हमलावर परिवार के सदस्यों के खिलाफ 20 जून 2011 को घर में आगजनी करने का केस दर्ज कराया था। मगर नामजदों ने पुलिस से मिलीभगत कर मुकदमे से अपने नाम निकलवा लिए थे। वह 9 अप्रैल 2018 को पेरोल पर आया था और 10 मई को वापस जेल चला गया था। तब मकान में 250 किलो लोहे का गेट लगा था। 8 जून को उसकी मां जेल में मिलने आई तो उन्होंने बताया कि उक्तजनों ने लोहे का मेन गेट चुराकर खुर्द-बुर्द कर दिया है और मकान में तोड़फोड़ की है। उसने जेल से पुलिस के पास शिकायत भेजी, मगर कार्रवाई नहीं हुई। सिटी थाना पुलिस ने अब अदालत के आदेश पर केस दर्ज किया है।

Posted By: Jagran