जागरण संवाददाता, सिरसा : शादी करने का झांसा देकर आस्ट्रेलिया साथ ले जाने का झांसा देने के मामले में ऐलनाबाद थाना पुलिस ने गांव बुढ़ीमेड़ी निवासी सुखजीत कौर की शिकायत पर रानियां निवासी युवती, उसके माता पिता सहित चार लोगों के खिलाफ धोखाधड़ी करने का मामला दर्ज किया है। बुढ़ीमेड़ी निवासी सुखजीत कौर की शिकायत पर ऐलनाबाद पुलिस ने कर्णदीप कौर निवासी वार्ड दो रानियां हाल आबाद आस्ट्रेलिया, उसके पिता महिंद्र सिंह, मां जसविंद्र कौर तथा हरमेल सिंह निवासी गांव आदमके तहसील सरदुलगढ़ जिला मानसा के खिलाफ मामला दर्ज किया है।

पीड़िता ने बताया कि उसके बेटे अजमेर सिंह का रिश्त कर्णदीप कौर के साथ उसके माता पिता व रिश्तेदारों की मौजूदगी में जीवननगर में हुआ था। उस दौरान यह तय हुआ कि कर्णदीप कौर आस्ट्रेलिया जाना चाहती है और इसके जाने का सारा खर्चा पीड़िता व उसके परिवार को वहन करना होगा। कर्णदीप जब विदेश चली जाएगी तो वह अपने पति को भी साथ ले जाएगी। पीड़िता सुखदीप कौर ने बताया कि उसने रिश्तेदारों से कर्जा उठा कर व रुपये मांग कर आरोपित कर्णदीप कौर को एक जुलाई 2018 को आस्ट्रेलिया में भेज दिया, जिस पर करीब 26 लाख रुपये खर्च किए।

दो साल बाद कर्णदीप वापस आई, जिसके बाद उसकी अजमेर सिंह के साथ रानियां के जीवननगर रोड स्थित गुरुद्वारे में शादी हुई। बाद में उस शादी को रानियां तहसील में रजिस्टर्ड करवाया। पीड़िता सुखदीप कौर ने आरोप लगाया कि आरोपित कर्णदीप कौर करीब एक सप्ताह तक उसके बेटे के साथ रही और बाद में फिर से विदेश जाने की जिद करने लगी। कहने लगी कि वे दोनों विदेश चले जाएंगे और वहा जाकर अपना काम सेट कर लेंगे। उसने बताया कि वह विदेश जाकर वहां पर फाइल लगाकर उसे भी विदेश में अपने पास बुला लेगी।

पीड़िता ने बताया कि कर्णदीप कुछ दिन अपने माता पिता के पास रही और बाद में उसके परिवार को जानकारी दिये बिना विदेश चली गई। जब उसने कर्णदीप व उसके स्वजनों से पूछा तो उन्होंने कहा कि चिंता मत करो, जल्द ही हमारी लड़की आपके लड़के को विदेश बुला लेगी। करीब दो महीने बीतने के बाद जब उसके बेटे ने कर्णदीप को फोन किया और उसे बुलाने के लिए कहा तो पहले तो वह टालमटोल करने लगी और बहाने बनाने लगी।

बाद में उसने कहा कि मैंने तुम्हें विदेश नहीं बुलाना है और न ही बुलाउंगी। उसने कहा कि यह उनके परिवार की प्लानिंग थी। तुमसे रुपये लेकर में विदेश चली जाउंगी। बस इस प्लान में तुम्हें फंसाना था। अब में बाहर आ गई, तुम मेरा कुछ नहीं बिगाड़ सकते और न ही कोई कार्यवाही कर सकते। इस मामले में जब उसके माता पिता व रिश्तेदारों से बात की तो उन्होंने कहा कि उन्होंने लड़की को बाहर भेजना था वह हमने भेज दिया।

धोखाधड़ी का यह प्लान बहुत पहले बना लिया था। तुम लोग इसमें फंस गए। न तो हमारी लड़की तुम्हारे लड़के को विदेश बुलाऐगी और ना ही हम तुम्हारे पैसे वापस देगें। पीड़िता ने बताया कि इस मामले में कई बार पंचायतें भी हो चुकी है । आरोपितों का कहना है कि उन्होंने कोई रुपये वापस नहीं देने। पीड़िता ने बताया कि वह गरीब महिला है। अपनी एक किला जमीन बेचकर व पड़ोसियों से उधार लेकर उसने राशि जुटाई थी। इस मामले में पीड़िता के बयान पर जांच कर ऐलनाबाद थाना के उपनिरीक्षक सुरेंद्र सिंह मामले की जांच कर रहे हैं।

Edited By: Manoj Kumar

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट