टोहाना (फतेहाबाद), जागरण संवाददाता। कौन बनेगा करोड़पति की हाट सीट पर अमिताभ बच्चन के सामने बैठना कई सालों से लोगों के लिए एक सपना रहा है। लेकिन टोहाना की बेटी और बरवाला की बहु आरती बजाज चुघ का ये सपना पूरा हो गया है। उन्हें ना केवल अमिताभ बच्चन के सामने हाट सीट पर बैठने का मौका मिला है बल्कि अपनी बुद्धिमता से उन्होंने कई सवालों के सही जवाब देकर लाखों रुपये का पुरुस्कार भी जीता है।

कांट्रेक्ट के चलते जीती गई राशि नहीं बताई, लेकिन 25 लाख जीतने की सूचना

हालांकि चैनल के कांटे्रक्ट के चलते आरती बजाज चुघ एवं उनके स्वजन जीती गई राशि का खुलासा नहीं कर रहे हैं, लेकिन उनकी नजदीकी सूत्रों की मानें तो केबीसी से आरती बजाज चुघ ने 25 लाख रुपये की ईनामी  राशि जीती है। मूल रूप से टोहाना की रहने वाली आरती बजाज चुघ अब बरवाला में समाजसेवी नरेंद्रनाथ चुघ की पुत्रवधु हैं। वर्तमान में वो पंजाब के चमकौर साहिब में ग्रामीण बैंक में सीनियर बैंक मैनेजर हैं।

अमिताभ बच्चन को बोली, विदाई के समय इतना नहीं रोई, जितनी अब खुशी के मारे रो रही

फास्टेस्ट फिंगर फस्र्ट में चुने जाने के बाद जब केबीसी के होस्ट एवं महानायक अमिताभ बच्चन ने जब उनका नाम पुकारा और उन्हें हाट सीट पर लेकर पहुंचे तो वो खुशी के मारे रो पड़ी। इस पर अमिताभ ने उनसे रोने का कारण पूछा तो उन्होंने कहा कि अपनी विदाई के समय भी इतना नहीं रोई थी, जितना अब खुशी के मारे रो रही हूं। इस पर अमिताभ बच्चन ने उनके साथ हंसी-ठिठोली करते हुए कहा कि कहो, तो वापिस बिठा दूं। इस पर आरती बजाज की भी हंसी निकल गई।

पिता सिरसा पालिटेक्निक कालेज से हुए रिटायर, बेटी बारहवीं में ब्लाक में रही थी अव्वल

कौन बनेगा करोड़पति में हाट सीट पर बैठने वाली आरती बजाज चुघ के पिता पवन बजाज सिरसा के पालिटेक्निक के प्रिंसिपल पद से रिटायर हुए हैं। इससे पहले वो टोहाना में भी वाइस प्रिंसिपल के तौर पर काम कर चुके हैं। उन्होंने बताया कि आरती बचपन से काफी होशियार थी। आरती ने बारहवी कक्षा में भी ब्लाक स्तर पर टाप किया था। इसी के चलते उसने बैंक में नौकरी हासिल की और देश के सबसे प्रतिष्ठित गेम शो में पहुंचकर एक बार फिर अपनी योग्यता साबित की है।

Edited By: Naveen Dalal