यशलोक सिंह, गुरुग्राम

फेस्टिवल सीजन दस्तक देने ही वाला है इसे लेकर रियल एस्टेट सेक्टर नई उड़ान की तैयारियों में जुट हुआ है। इस सेक्टर के दिग्गजों का कहना है कि अक्टूबर से लेकर दिसंबर तक का समय उनके लिए अति महत्वपूर्ण होने वाला है। सबसे बड़ी राहत की बात यह है कि वैश्विक महामारी कोविड-19 को लेकर स्थिति इस बार पूरी तरह से नियंत्रण में हैं। इससे रियल एस्टेट में खरीदारी एवं निवेश करने वालों का सेंटिमेंट बढ़ेगा। बैंकों द्वारा होम लोन पर ब्याज की दरों में भी जिस प्रकार की कमी की जा रही है, उससे अच्छा वातावरण बनता दिख रहा है।

गुरुग्राम रियल एस्टेट का बड़ा हब है। यहां पर बड़ी संख्या में बिल्डरों के प्रोजेक्ट चल रहे हैं। सभी को फेस्टिवल सीजन में आक्सीजन मिलने की उम्मीद है। बिल्डरों का कहना है कि अधिक से अधिक ग्राहकों को रिहायशी एवं कामर्शियल प्रापर्टी की खरीद के प्रति आकर्षित करने को लेकर कई प्रकार के कदम उठाए जा रहे हैं। उनकी ओर से डिस्काउंट और आफर दिए जा रहे हैं या देने की तैयारी की जा रही है। स्टेट बैंक आफ इंडिया द्वारा होम लोन से संबधित ब्याज दरों को 6.7 प्रतिशत तक लेकर आया है। वहीं कोटक महिद्रा बैंक द्वारा होम लोन की दरों में 15 बेसिक प्वाइंट की कटौती की गई है। इसके द्वारा 6.5 प्रतिशत की ब्याज दर से होम लोन दिया जाएगा। बैंक आफ बड़ौदा द्वारा 6.75 प्रतिशत की ब्याज दरों पर होम लोन प्रदान किया जाएगा। एचडीएफसी व आइसीआइ बैंक द्वारा 7.5 प्रतिशत ब्याज होम लोन पर निर्धारित है। रियल एस्टेट सेक्टर के विशेषज्ञ शुभम सिंह का कहना है कि बैंकों के इस रुख से रियल एस्टेट को बढ़ा बल मिलता दिख रहा है।

फेस्टिवल सीजन को लेकर बिल्डरों द्वारा कई प्रोजेक्ट लांच और प्री-लांच किए जा रहे हैं। इनकी ओर से कई प्रकार के आफर भी दिए जा रहे हैं। इनकी और से फ्री पार्किंग, माड्यूलर किचन सहित स्टांप ड्यूटी और रजिस्ट्रेशन फीस में विशेष छूट देने की व्यवस्था की जा रही है।

रियल एस्टेट सेक्टर में आर्थिक गतिविधियां जोर पकड़ रही हैं। इससे इस बात की पूरी उम्मीद है कि रिहायशी और कामर्शियल प्रापर्टी में भरपूर तेजी आएगी। किराए के घरों में रहने वालों में अपने घर के प्रति चाह बढ़ी है। गुरुग्राम में हमारी रियल एस्टेट से संबंधित जो परियोजनाएं हैं वह बेहतर प्रदर्शन करेंगी। ग्राहकों के लिए दो लाख रुपये तक के गोल्ड वाउचर, सीमित अवधि के लिए हर बुकिग पर गिफ्ट वाउचर आदि प्रदान किए जाएंगे।

अशोक कपूर, चेयरमैन, क्रिसुमी कारपोरेशन एंड कृष्णा ग्रुप रियल एस्टेट की बात की जाए तो फेस्टिवल सीजन हमेशा से ही इसके लिए आकर्षण का केंद्र रहा। इस दौरान प्रापर्टी की खरीद व इसमें निवेश को लेकर भरपूर इन्क्वायरी की जाती है। हमें पूरा विश्वास है कि इस बार भी रियल एस्टेट सेक्टर में निवेश बढ़ेगा। एनसीआर के रियल एस्टेट को लेकर जो रिपोर्ट आ रही है वह उत्साहित करने वाली है। कोरोना संक्रमण के नियंत्रण में होने से भी उत्साह बढ़ने की पूरी उम्मीद है।

आशीष सरीन, सीईओ, अल्फाकार्प आने वाले फेस्टिवल सीजन से रियल एस्टेट सेक्टर में रौनक बढ़ने वाली है। आधुनिक सुविधाओं वाले घरों की मांग में वृद्धि की पूरी उम्मीद है। सदर्न पेरिफेरल रोड क्षेत्र के कामर्शियल भाग में हम मिक्सड यूज डेवलपमेंट के लिए आकर्षक आफर के साथ प्री-लीज निवेश का अवसर देने जा रहे हैं। पिछले साल अक्टूबर-नवंबर के मध्य में हमने 500 करोड़ रुपये की बिक्री की थी। इस साल हमारा लक्ष्य 1000 करोड़ रुपये का है।

पंकज बंसल, निदेशक, एम3एम

Edited By: Jagran