जागरण संवाददाता, नया गुरुग्राम: डीएलएफ साइबर हब में विश्व पर्यावरण दिवस के उपलक्ष्य में चलाए गए तीन दिवसीय कार्यक्रम 'अलग करो' का मंगलवार देर शाम समापन हो गया। तीसरे व समापन दिवस पर पर्यावरण केंद्रित 'वयं पर्फार्मिंग आर्ट सोसायटी' द्वारा नुक्कड़ नाटक, परिक्रमा बैंड द्वारा लाइव बैंड प्रस्तुति व नारी शक्ति पुरस्कार से सम्मानित स्टैंड-अप कॉमेडियन वासु प्रिमलानी ने अपनी प्रस्तुति से लोगों को पर्यावरण संरक्षण व कचरा प्रबंधन का संदेश दिया।

एनजीओ साहस के साथ मिलकर 'वयं पर्फार्मिंग आर्ट सोसायटी' के बच्चों द्वारा 'हर दिन-तीन बिन' थीम पर प्रस्तुत नुक्कड़ नाटक को दर्शकों की भरपूर सराहना मिली। अमित तिवारी के निर्देशन में राहुल, नमिता, शिवानी, नंदनी, साक्षी, निमित, नेहा, अदिति व खुशी ने लोगों को गीले व सू्खे कचरे को अलग-अलग डस्टबिन में डालने के लिए समझाया। उन्होंने प्रस्तुति के माध्यम से बताया कि किस प्रकार से सूखे कचरे को रीसाइकिल किया जा सकता है व गीले कचरे से बहुमूल्य खाद बनाया जा सकता है।

इसी प्रकार परिक्रमा बैंड के कलाकारों ने भी अपनी संगीतमय प्रस्तुति में ग्लोबल वार्मिंग और करोड़ों टन कचरे से दबी पृथ्वी का दर्द बयां किया। कार्यक्रम का समापन स्टैंड-अप कॉमेडियन वासु प्रिमलानी की प्रस्तुति से हुआ। उन्होंने मानव द्वारा किए जा रहे प्रकृति के दोहन को व्यंग के लहजे में कहा कि पहले हम प्रकृति को नुकसान पहुंचाते हैं, फिर छोटे-छोटे कार्यक्रमों के जरिए दुनिया को दिखाते हैं कि हम पर्यावरण को लेकर कितने ¨चतित हैं। उन्होंने कहा कि हम में से कोई भी पर्यावरण को संरक्षित नहीं कर रहा है, बल्कि प्रकृति के प्रकोप से अपना-अपना बचाव करने में लगा है।

Posted By: Jagran