जागरण संवाददाता, फतेहाबाद :

महिला एवं किशोरी सम्मान योजना का शुभारंभ हो गया है। उपायुक्त डा. नरहरि सिंह ने इन योजनाओं का शुभारंभ किया और महिला एवं बाल विकास विभाग की इन योजनाओं के लाभपात्रों को फोर्टिफाइड मीठा सुगंधित स्किम्ड मिल्क पाउडर व सैनेटरी पैड वितरित किए। इस अवसर पर पीओ आइसीडीएस राजबाला, डीआइपीआरओ एआर कसाना, डीआइओ सिकन्दर आदि मौजूद रहे।

उपायुक्त डा. नरहरि सिंह बांगड़ ने कहा कि प्रदेश सरकार शिक्षा, स्वास्थ्य, सुरक्षा, स्वावलंबन के साथ ही अब स्वाभिमान के साथ समाज को नई दिशा देने में अपनी जिम्मेवारी निभा रही है। बाल स्वास्थ्य, महिला सशक्तिकरण के साथ ही अनिमिया जैसे रोग से दूरी बनाने के लिए विभिन्न योजनाओं को मूर्त रूप दिया जा रहा है। जिला स्तरीय कार्यक्रम में उपायुक्त डा. बांगड़ ने बीपीएल परिवार की महिलाओं को निशुल्क सैनेटरी नेपकिन तथा फोर्टिफाइड सुगंधित स्किम्ड मिल्क पाउडर वितरित करते हुए सुखद व स्वच्छ रूप से स्वास्थ्य बनाए रखने में सरकार की योजनाओं का लाभ उठाने के लिए प्रेरित किया। मुख्यमंत्री दूध उपहार योजना के तहत गर्भवती व दूध पिलाने वाली महिलाओं एवं 1 से 6 वर्ष तक के बच्चों के लिए आंगनवाड़ी केंद्रों में आने वाले लाभार्थियों के लिए मुफ्त फोर्टिफाइड मीठा सुगंधित स्किम्ड मिल्क पाउडर दिया जाएगा।

--------------------

पीओ आइसीडीएस राजबाला ने बताया कि जिले फतेहाबाद में 1096 सेंटर चल रहे हैं तथा बीपीएल परिवार की कुल 38551 किशोरियों व बच्चियों को महिला एवं किशोरी सम्मान योजना के तहत आंगनबाडी वर्कर व हैल्पर द्वारा सैनेटरी नैपकिन वितरित किए जाएंगे। उन्होंने बताया कि 1 से 6 वर्ष तक के बच्चों को स्किमड मिल्क वितरित किया जाएगा। उन्होंने बताया कि जिला फतेहाबाद में 1 से 6 वर्ष बच्चों में 33714 बच्चों को लाभ मिलेगा व गर्भवती महिलाओं में 11149 महिलाओं को लाभ मिलेगा। जिलास्तरीय कार्यक्रमें में सुमन कथपाल, स्नेहलता, प्रोमिला, रेखा, भावना, ममता, किरण, आशीष, दीपक कौशल, निशा रानी, मुस्कान, प्रियंका, किरण, लक्की ग्रोवर सहित सभी सीडीपीओ व सुपरवाइजर तथा योजनाओं के लाभार्थी मौजूद रहे। कैसे इस्तेमाल करें

एक साफ बर्तन में छने हुए पीने योग्य 4.75 लिटर पानी को 3 मिनट उबालें। गुनगुना होने पर उसमें 500 ग्राम दूध पाउडर के पैक को खोल कर धीरे-धीरे डालते हुए बड़े चम्मच से मिलाएं। इस प्रकार तैयार मीठे सुगंधित दूध को छानकर तत्काल पूर्ण उपयोग करें।

------------------------

कैसे इस्तेमाल न करें

खुला पैकेट प्राप्त होने पर उपयोग में न लाया जाएं। 500 ग्राम से कम मात्रा के उपयोग होने की स्थिति में खुले पैक को रबड़ बैंड से मुंह बंद कर हवा बंद साफ व सूखे डिब्बे में रखें और उसका ढक्कन टाइट बंद कर दें।

--------------------------------

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस