फरीदाबाद [हरेंद्र नागर]। दिल्ली से सटे फरीदाबाद के गांव भैंसरावली में पोस्ट ऑफिस में कार्यरत कर्मचारी लोगों के करीब डेढ़ करोड़ रुपये लेकर चंपत हो गया। एक ग्रामीण पासबुक लेकर पोस्ट ऑफिस पहुंचे। वहां पता चला कि उन्होंने जो रकम जमा कराई, उसकी एंट्री उनकी पास बुक में तो है, मगर पोस्ट ऑफिस के किसी भी रिकॉर्ड में नहीं है। इससे उनके पैरों तले से जमीन खिसक गई। उन्होंने अन्य लोगों को भी इस बारे में बताया तो वे भी अपनी पास बुक लेकर पोस्ट ऑफिस  पहुंचे। उनके साथ भी यही समस्या थी। 

सभी ने पलवल निवासी रवि नाम के एक कर्मचारी के हाथों अपने रुपये पोस्ट ऑफिस में जमा कराए थे। ग्रामीण इसी शिकायत लेकर पोस्ट मास्टर के पास पहुंचे तो उन्होंने बताया कि रवि उनके यहां अस्थाई कर्मचारी के तौर पर तैनात है। तीन-चार दिन से वह पोस्ट ऑफिस भी नहीं आ रहा। इससे 100 से अधिक ग्रामीणों को अपनी मेहनत की कमाई डूबने का खतरा लगने लगा। शनिवार को सभी ग्रामीण एकत्र होकर तिगांव स्थित मुख्य पोस्ट ऑफिस में पहुंचे। वहां उन्होंने अपनी शिकायत दी।

गांव भैंसरावली निवासी वैष्णवी ने बताया कि आरोपित डेढ़ करोड़ से अधिक रुपये लेकर चंपत हुआ है। पोस्ट मास्टर जगदीश चंद्र का कहना है कि वे अपने स्तर पर मामले की जांच कर रहे हैं। रवि के बारे में भी जानकारी जुटाई जा रही है, ग्रामीणों से रकम लेकर उसने रुपयों का कहां उपयोग किया। इस संबंध में तिगांव थाना पुलिस को भी शिकायत दी जाएगी। बता दें कि पोस्ट ऑफिस में  बैंक की तरह बचत खाता खुलवाया जाता है। ज्यादातर ग्रामीणों ने बचत खाते में रुपये जमा कराए थे।

ये भी पढ़ेंः दुर्लभ बीमारी से पीड़ित है हरियाणा का मासूम रुद्राक्ष, इलाज के लिए लगाई पीएम मोदी से गुहार

फिलहाल सभी लोगों को यह डर सताने लगा है कि आखिर उनका पैसा वापस मिलेगा या नहीं। फिलहाल इन पैसे के संदर्भ में पोस्ट ऑफिस की तरफ से कोई आधिकारिक बयान नहीं आया है। पोस्ट का कहना है कि उच्च अधिकारियों को इस बारे में सूचित किया जाएगा। विभाग का क्या जो भी निर्णय होगा बता दिया जाएगा। 

ये भी पढ़ेंः Rakesh Tikait से तीखे सवाल पूछने वाली छात्रा को किया जाएगा सम्मानित

 

Indian T20 League

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

kumbh-mela-2021