फरीदाबाद [हरेंद्र नागर]। निकिता की हत्या के आरोपित तौशीफ से पुलिस को अहम जानकारियां मिली हैं। उसके सगे मामा इस्लामुद्दीन ने अपने जानकार के माध्यम से तौशीफ को देसी पिस्टल उपलब्ध कराई थी। जिससे उसने हत्या को अंजाम दिया। तौशीफ का मामा इस्लामुद्दीन पुन्हाना का बदमाश है। साल 2018 में उसने गुरुग्राम के सेक्टर-29 थाना प्रभारी इंस्पेक्टर सुरेंद्र फौगाट का अपहरण कर लिया था। इस मामले में इस्लामुद्दीन को अदालत से 10 साल की सजा हो गई थी। इन दिनों वह भौंडसी जेल में सजा काट रहा है। पुलिस सूत्रों की मानें तो तौशीफ ने अपने मामा इस्लामुद्दीन से कहा था कि उसे पिस्टल की जरूरत है। इस्लामुद्दीन ने अपने जानकार के माध्यम से तौशीफ को पिस्टल उपलब्ध कराई। इसी पिस्टल से उसने हत्या को अंजाम दिया। अब पुलिस उसके मामा इस्लामुद्दीन को भी प्रोडक्शन वारंट पर लेकर पूछताछ में शामिल कर सकती है।

आरोपित की कार बरामद हुई

बुधवार को पुलिस ने आरोपित की कार सोहना-तावडू रोड से बरामद कर ली है। आरोपित यह कार रास्ते में छोड़कर फरार हो गए थे। गिरफ्तारी के बाद आरोपित की निशानदेही पर कार बरामद हुई। बता दें कि हत्याकांड के दोनों आरोपित तौशीफ और रेहान दो दिन की रिमांड पर हैं। बृहस्पितवार को उनकी रिमांड पूरी हो रही है। पुलिस उन्हें अदालत में पेश करेगी। 

यह भी देखें: SIT जांच के आदेश, दोषियों के खिलाफ Haryana Govt हुई सख्त

Edited By: Mangal Yadav