जेएनएन, अंबाला। यहांं अंबाला छावनी रेलवे स्टेशन के यार्ड में खड़ी मालगाड़ी की छत पर चढ़कर सेल्फी ले रहे  एक युवक हाई वोल्टेज लाइन की चपेट में आ गया और उसकी से मौत हो गई। वह चंडीगढ़ की चितकारा यूनिवर्सिटी में बीबीए प्रथम वर्ष का छात्र था। उसके साथ दो दोस्त भी थे, वे भी चपेट में आ जाते, गनीमत रही कि वे ऐन मौके पर ट्रेन की छत से कूद गए। इस हादसे से वहां कोहराम मच गया।

आदित अपने दोस्तों शिवराज और सहारनपुर निवासी आशीर्वाद सेठी के साथ स्टेशन पर पहुंचा था। उसका और शिवराज का परिवार अंबाला के महेश नगर में रहता है। सेठी के पिता सेना में कर्नल हैं। वह पहले अंबाला में नियुक्त थे। तब से तीनों में दोस्ती रही। अब सेठी के पिता देहरादून में रहते हैं और उनका परिवार सहारनपुर में रहता है। सेठी अहमदाबाद में एमबीबीएस कर रहा है।

रविवार सुबह वह हिमाचल जाते समय आदित के घर मिलने के लिए पहुंचा। साढ़े 12 बजे आदित व शिवराज उसे ट्रेन में बैठाने के लिए स्टेशन ले गए। ट्रेन की जानकारी लेने के बाद वे कार से अंबाला शहर की ओर निकल पड़े। रास्ते में कार रोककर स्टेशन के यार्ड में पहुंचे और वहीं खड़ी एक मालगाड़ी की छत पर चढ़ गए। जब तीनों सेल्फी लेने लगे तो उसी दौरान आदित का हाथ हाईवोल्टेज तार से टकरा गया और वह जलने लगा।

यह भी पढ़ें: रेल यात्रियों पर बढ़ा एक और भार, इस सेवा के लिए शुल्‍क में हुई सात गुनी बढ़ोत्‍तरी

यह देख शिवराज और सेठी कूद गए। घटनास्थल पर पहुंची रेलवे पुलिस ने लाइन बंद कराने के बाद शव को रस्सियों में बांधकर नीचे उतारा। तीनों युवकों के परिजन भी मौके पर पहुंच गए। आदित ने शिवराज के साथ इसी साल चितकारा यूनिवर्सिटी में प्रथम वर्ष बीबीए में दाखिला लिया था। आदित के पिता एक मेडिकल कंपनी में मार्केङ्क्षटग विभाग में कार्यरत हैं।

हरियाणा की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

पंजाब की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

Posted By: Sunil Kumar Jha