Move to Jagran APP

Haryana Election 2024: 'भाजपा सरकार से हरियाणा मांगे हिसाब', विधानसभा चुनाव को लेकर कांग्रेस ने जारी किया स्लोगन

Haryana Election 2024 हरियाणा विधानसभा चुनाव 2024 को लेकर कांग्रेस ने स्लोगन जारी किया है। बीजेपी सरकार से हरियाणा मांगे हिसाब का स्लोगन जारी किया है। कांग्रेस नेताओं ने गंभीर आरोप लगाते हुए कहा कि बीजेपी सरकार में लोग बेहद परेशान हो गए हैं। गरीबों और वंचितों पर कोई ध्यान नहीं दिया जा रहा है। छात्रों को अपने अधिकारों के लिए प्रदर्शन करने पड़ रहे हैं।

By Jagran News Edited By: Sushil Kumar Thu, 11 Jul 2024 03:49 PM (IST)
Haryana Election 2024: 'भाजपा सरकार से हरियाणा मांगे हिसाब', विधानसभा चुनाव को लेकर कांग्रेस ने जारी किया स्लोगन
Haryana Election 2024: 'भाजपा सरकार से हरियाणा मांगे हिसाब', कांग्रेस ने जारी किया स्लोगन।

जागरण ब्यूरो, अंबाला। हरियाणा विधानसभा चुनाव को लेकर कांग्रेस ने अपनी तैयारी तेज कर दी है। अगले कुछ महीनों में हरियाणा विधानसभा का चुनाव होने वाला है। इसको लेकर कांग्रेस ने आज (गुरुवार) को स्लोगन जारी किया है। 'भाजपा सरकार से हरियाणा मांगे हिसाब' का स्लोगन जारी किया है।

हरियाणा कांग्रेस ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर स्लोगन जारी किया है। प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान पूर्व मुख्यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्डा, कांग्रेस सांसद दीपेंद्र सिंह हुड्डा और हरियाणा कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष उदयभान प्रमुख रूप से रहे। इस दौरान बीजेपी पर जमकर निशाना साधा। कांग्रेस नेताओं ने बीजेपी पर कई गंभीर आरोप लगाए। उन्होंने कहा कि बीजेपी ने आरक्षण को खत्म करने का काम किया है।

'इस बार नहीं आएगी बीजेपी'

कांग्रेस नेता चौधरी बीरेंद्र सिंह ने कहा कि हरियाणा में लोगों ने मन बना लिया है कि बीजेपी राज्य में सरकार नहीं बनाएगी। लोगों के लिए काम सिर्फ कांग्रेस कर पाएगी। इस बार लोग बीजेपी को नहीं आने देंगे।

क्या बोले दीपेंद्र हुड्डा

कांग्रेस सांसद दीपेंद्र सिंह हुड्डा ने कहा कि हरियाणा मांगे हिसाब अभियान के माध्यम से हम सभी कांग्रेसजन हरियाणा की बीजेपी सरकार की विफलताओं का लेखा-जोखा और सवाल एक चार्जशीट के माध्यम से लोगों तक लेकर जाएंगे।

कांग्रेस के इस कार्यक्रम में हरियाणा वासियों के बीच न सिर्फ चार्जशीट और अपने संकल्प लेकर जाएंगे, बल्कि लोगों की आशाओं व आकांक्षाओं के बारे में पूछकर उनसे सुझाव लेकर अपने घोषणा पत्र में उन्हें शामिल करेंगे।

यह भी पढ़ें- Farmers Protest: नदियों के बीच से, कच्चे फिसलन भरे रास्तों पर..., शंभू बॉर्डर बंद होने से जान की बाजी लगाकर आवागमन कर रहे राहगीर