जागरण संवाददाता, अंबाला शहर : पति की तबीयत खराब बताकर बीएएमएस डॉक्टर को पहले घर बुलाया और फिर साजिश के तहत अश्लील वीडियो बनाई। ब्लैकमेल कर दस लाख रुपये मांगे। रौब झाड़ने के लिए एक होमगार्ड जवान सहित दो लोग पुलिसकर्मी बनकर महिला के घर पहुंच गए। दुष्कर्म का मामला दर्ज करवाने के लिए डॉक्टर को धमकाया और चार लाख रुपये ऐंठ लिए। इस ब्लैकमेलिग में दो महिलाएं, एक होमगार्ड जवान सहित चार लोग शामिल हैं। मंगलवार को महिला ने फिर से ब्लैकमेल करने के लिए फोन किया। तंग आकर डॉक्टर ने एसपी अभिषेक जोरवाल को शिकायत की। एसपी ने मामले को गंभीरता से लेते चुपचाप जांच करवाई और आरोप सही मिलने पर मुख्य आरोपित महिला मीनू, होमगार्ड रामप्रकाश और महेंद्र पाल को गिरफ्तार कर लिया। आरोपितों से पूछताछ जारी है। प्रारंभिक जांच में पाया कि एक और महिला भी शामिल है। आरोपितों को बुधवार कोर्ट में पेश किया जाएगा।

---------------------------

बच्चा न होने की दवाई लेने गई थी महिला

काजीवाड़ा की महिला बच्चा न होने पर दवाई लेने के लिए डॉक्टर के पास गई थी। 23 जून को महिला ने डॉक्टर को कॉल कर कहा कि पति बीमार हैं इसलिए वह घर आकर चेकअप कर दें। इस पर डॉक्टर वहां चले गए। वहां एक और महिला मौजूद थी। साजिश के तहत महिलाओं ने डॉक्टर की वीडियो बना ली जिसका उन्होंने विरोध किया। इस बीच होमगार्ड राम प्रकाश के साथ महेंद्र पाल पुलिस वाला बनकर पहुंच गया। सभी ने वीडियो के दम पर दुष्कर्म का मामला दर्ज करवाने की बात कहकर डाक्टर को डरा दिया। इन लोगों ने डॉक्टर से दस लाख मांगे, लेकिन चार लाख पर बात बनी। दबाव डालने के बाद डॉक्टर ने चार लाख रुपये दे दिए।

इसके बाद आरोपित महिला दोबारा डॉक्टर को ब्लैकमेल करने लगी तो उन्होंने एसपी अभिषेक जोरवाल से इसकी शिकायत की।

----------

डॉक्टर की शिकायत पर महिला सहित दो व्यक्तियों के खिलाफ केस दर्ज कर लिया गया है, जबकि एक अन्य महिला की तलाश जारी है। मामले में अभी जांच चल रही है।

-राम कुमार, एसएचओ, थाना शहर।

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप