Move to Jagran APP

Gujarat: CM भूपेंद्र पटेल ने वलसाड में फहराया तिरंगा, आदिवासी बेल्ट के गांवों के लिए की जल योजना की घोषणा

जरात के मुख्यमंत्री भूपेंद्र पटेल ने वलसाड में तिरंगा फहराया। सीएम 14 अगस्त को ही वलसाड पहुंचे थे। मुख्यमंत्री ने अपने संबोधन में कहा कि इस वर्ष राज्यस्तरीय समारोह वलसाड जिले में आयोजित किया जा रहा है। वलसाड वह भूमि है जिसने ईरान से आए पारसियों का स्वागत किया और इन पारसियों ने स्वतंत्रता संग्राम में भी महत्वपूर्ण योगदान दिया।

By Jagran NewsEdited By: Piyush KumarTue, 15 Aug 2023 01:59 PM (IST)
गुजरात के मुख्यमंत्री भूपेंद्र पटेल ने वलसाड में फहराया तिरंगा। (फोटो सोर्स: जागरण)

वलसाड, जेएनएन। देश में आज 77वां स्वतंत्रता दिवस मनाया जा रहा है। गुजरात के मुख्यमंत्री भूपेंद्र पटेल ने वलसाड में तिरंगा फहराया। सीएम 14 अगस्त को ही वलसाड पहुंचे थे। स्वतंत्रता दिवस समारोह को संबोधित करते हुए भूपेंद्र पटेल ने अगले वर्ष लागू होने वाली परियोजनाओं की घोषणा की।

पारसियों ने स्वतंत्रता संग्राम में दिया महत्वपूर्ण योगदान: सीएम

मुख्यमंत्री ने अपने संबोधन में कहा कि इस वर्ष राज्यस्तरीय समारोह वलसाड जिले में आयोजित किया जा रहा है। वलसाड वह भूमि है जिसने ईरान से आए पारसियों का स्वागत किया और इन पारसियों ने स्वतंत्रता संग्राम में भी महत्वपूर्ण योगदान दिया।

डांग जिले के 279 गांवों में 866 करोड़ की सतही स्रोत आधारित जल आपूर्ति योजना की घोषणा की गई है। इस योजना के क्रियान्वयन से प्रतिदिन 37 एमएलडी पानी उपलब्ध होगा।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के हरित विकास मंत्र के अनुरूप राज्य में हरित विकास और हरित स्वच्छ ऊर्जा की दिशा में बड़ी परियोजनाएं शुरू की गई हैं। कच्छ जिले के खावड़ा के पास 30 गीगावॉट हाइब्रिड नवीकरणीय ऊर्जा पार्क आकार ले रहा है।

गुजरात ने विनाशकारी तूफान का डटकर सामना किया: सीएम

सीएम ने आगे कहा,"कुछ दिनों पहले आए चक्रवात तूफान बिपोरजॉय से प्रभावित 1 लाख से अधिक लोगों को सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाया गया है। गुजरात ने विनाशकारी तूफान का डटकर सामना किया।

भूपेंद्र पटेल ने आगे कहा,"सरकार द्वारा नागरिकों को सूदखोरों के उत्पीड़न से बचाने के लिए लगभग 4 हजार जनता दरबार का आयोजन किया गया है। चाहे वह नशीली दवाओं के संक्रमण को रोकने का अभियान हो या सूदखोर उत्पीड़न से मुक्ति का अभियान, राज्य सरकार ने राज्य में कानून व्यवस्था की स्थिति के साथ शांति सुनिश्चित करने के लिए सख्त कार्रवाई की है।

राज्य को मिलेगा पांचवी जी: भूपेंद्र पटेल

उन्होंने आगे कहा,"गुरत राज्य पहले से ही 4जी (गरवी गुजरात, गुणवंतु गुजरात, डायनेमिक गुजरात और ग्लोबल गुजरात) था और अब यह 5जी की ओर बढ़ गया है। इस पांचवें जी का मतलब 'ग्रीन गुजरात है। राज्य में इलेक्ट्रिक वाहनों को बढ़ावा देने के उद्देश्य से इलेक्ट्रिक वाहन नीति लागू की गई है।"

उन्होंने कहा,"सरकार की ओर से 215 करोड़ से अधिक की सब्सिडी का भुगतान किया जा चुका है। साथ ही गुजरात अपनी सेमीकंडक्टर नीति की घोषणा करने वाला पहला राज्य है। साणंद में पहला सेमीकंडक्टर प्लांट आकार ले रहा है।"

 4 अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डों की सुविधा वाला राज्य बना गुजरात: सीएम

सीएम ने आगे कहा कि हाल ही में प्रधानमंत्री मोदी ने राजकोट में एक अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे का उद्घाटन किया। इसके साथ ही गुजरात 4 अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डों की सुविधा वाला राज्य बन गया है। आज वाइब्रेंट समिट एक बेंचमार्क बन गया है और 10वां वाइब्रेंट समिट जनवरी 2024 में होने जा रहा है। प्रदेश के 33 जिलों में 2645 अमृत झीलें बनाई गई हैं।

राज्य सरकार ने लगभग 69.11 लाख हेक्टेयर क्षेत्र में सिंचाई सुविधाएं विकसित की हैं। राज्य में 8 लाख खुडेटा ने 8.84 लाख एकड़ भूमि में जैविक खेती को अपनाया है। इस वर्ष खरीफ सीजन के लिए 30 करोड़ रुपये स्वीकृत किये गये हैं।