अहमदाबाद, जेएनएन। गुजरात में प्रति व्यक्ति आय दर में 12.6 फीसद का इजाफा हुआ है। राज्य के व्यक्ति की औसत आय अब एक लाख 74 हजार 652 रुपये पहुंच गई है। राज्य की वार्षिक वृद्धि दर 9,9 है जो बड़े राज्यों में सबसे अधिक है। राज्य की जीवन रेखा समान नर्मदा परियोजना पर वर्ष 2001 से अब तक 51786 करोड़ रुपये खर्च किए जा चुके हैं।

वित्तमंत्री नितिन पटेल ने मंगलवार को विधानसभा में राज्य का लेखानुदान बजट पेश किया। करीब 12 हजार 241 करोड़ के लाभ के बजट में सरकार ने शिक्षा, स्वास्थ्य, किसान, विधवा पेंशन, युवाओं के साथ आधारभूत विकास पर खास ध्यान दिया है। पटेल ने बताया कि गरीब व मध्यम वर्ग के नागरिकों के मुफ्त इलाज व ऑपरेशन की सीमा को तीन लाख से बढ़ाकर पांच लाख तक किया गया है। विधवा पेंशन को हजार से 1250 रुपये करने के साथ पुत्र के वयस्क होने पर भी पेंशन जारी रखने का फैसला किया गया है। राज्य के कृषि उत्पादन दर में 12,11 प्रतिशत की बढ़ोतरी हुई है, वहीं राज्य के पशुधन में 15 फीसद की वृद्धि दर्ज की गई है। आंगनवाड़ी वर्कर को अब 900 रुपये बढ़ाकर 7200 रुपये तथा आशावर्कर के वेतन में भी दो हजार रुपये का इजाफा किया गया है।

गुड्स एंड सर्विस टैक्स (जीएसटी) के अमल के बाद राज्य ने नया कोई कर इस बजट में नहीं लगाया है। करीब एक लाख 55 हजार करोड़ के बजट में सरकार ने 12 हजार 241 करोड़ 40 लाख का लाभ दर्शाया है। वित्तमंत्री ने बताया कि वर्ष 2017-18 में सरकार की करों से आय 64443 करोड़ से बढ़कर 71549 करोड़ पहुंच गई है। स्टांप ड्यूटी की आवक 5783 करोड़ से 7255 करोड़, मोटर व्हीकल टैक्स की आवक 3213 करोड़ से बढ़कर 3885 करोड़, इलेक्ट्रिसिटी ड्यूटी की आवक 5833 करोड़ से बढ़कर 6464 करोड़ रुपये हुई है। हाल में अपनी गुजरात यात्रा के दौरान वित्त आयोग के सदस्यों ने राज्य के वित्तीय प्रबंधन की प्रशंसा की है।

नर्मदा परियोजना

सरदार सरोवर नर्मदा बांध की पूर्ण ऊंचाई 138,68 मीटर तक ले जाई जा चुकी है। इस पर वर्ष 2001 से 2018 तक 51786 करोड़ रुपये खर्च हो चुके हैं। नर्मदा मुख्य कैनाल 458 किमी तथा 37 ब्रांच कैनाल 2617 किमी तक पूरा हो चुका है। नर्मदा नहर की 71748 किमी लंबाई में से अब तक 60427 किमी तक 84 प्रतिशत कार्य पूर्ण हो चुका है। इस योजना से 9 हजार 83 गांव और 166 शहरों को पेयजल उपलब्ध कराया जा रहा है।

पीएम मोदी करेंगे गुजरात की पहली मेट्रो का उद्घाटन 

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी गुजरात की पहली मेट्रो ट्रेन का चार मार्च को अहमदाबाद में उद्घाटन करेंगे। वस्त्राल से अपेरल पार्क तक साढ़े छह किलोमीटर तक का ट्रायल रन सफलतापूर्वक पूरा हो चुका है। वर्ष 2020 तक फेज-1 का कार्य पूर्ण कर लिया जाएगा। अहमदाबाद, राजकोट, सूरत व वडोदरा के लिए सरकार 700 इलेक्ट्रिक बसों को मंजूरी दे दी है। इससे पर्यावरण प्रदूषण को भी कम किया जा सकेगा।  

Posted By: Sachin Mishra

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस