अहमदाबाद, जागरण संवाददाता। गुजरात (Gujarat) में नवरात्रि (Navratri 2021) व गणेश उत्‍सव (Ganesh Chaturthi) को देखते हुए सरकार ने डीजे, बैंड व गायकों को सार्वजनिक स्‍थलों पर समारोह की छूट दे दी है लेकिन आयोजकों को इसके लिए पुलिस से मंजूरी आवश्‍यक है। उधर अहमदाबाद, राजकोट सहित कुछ शहरों में सीमित लोगों के साथ गणेश जी (Lord Ganesha) की शोभायात्रा की छूट दी है लेकिन उनका विसर्जन सार्वजनिक जलस्रोत में नहीं किया जा सकेगा। राज्‍य में इस बार नवरात्रि महोत्‍सव (Navratri Festival 2021) की भी छूट मिलने की संभावना है।

मुख्‍यमंत्री विजय रुपाणी (Vijay Rupani) ने बुधवार को मंत्रिमंडल की बैठक में राज्‍य की कोरोना की स्थिति का जायजा लिया तथा शुक्रवार से शुरु हो रहे गणेश महोत्‍सव व अगले माह में नवरात्रि महोत्‍सव को देखते हुए डीजे, बैंड व गायकों को सार्वजनिक समारोह में शिरकत करने की मंजूरी दे दी है। कोरोना महामारी के चलते मार्च 2020 के बाद से इन पर रोक लगी हुई थी। सरकार ने अपनी अधिसूचना में पहले ही अधिकतम 4 फीट के गणपति बिठाने व घर पर ही उसका विसर्जन करने के निर्देश जारी किये थे। 

200 लोगों के शामिल होने की छूट

गणेश जी की शोभायात्रा में भी अधिकतम 200 लोगों के शामिल होने की छूट दी गई है। राज्‍य में गतवर्ष नवरात्रि व गणेश उत्‍सव नहीं मनाया गया था लेकिन अब कोरोना के केस घटने के चलते इस बार गणेश उत्‍सव की छूट दी जा चुकी है जबकि नवरात्रि महोत्‍सव की भी मंजूरी की संभावना है। गृह राज्य मंत्री प्रदीप सिंह जाडेजा का इस संबंध में मानना है कि नवरात्रि महोत्‍सव से पहले कोरोना के हालात को देखकर निर्णय किया जाएगा, लेकिन अब एक के बाद एक छूट दिए जाने के बाद लग रहा है कि कुछ प्रतिबंधों व महामारी के दिशा - निर्देशों के पालन के साथ नवरात्रि महोत्‍सव को भी छूट मिल सकती है।

Edited By: Babita Kashyap