Move to Jagran APP

Gujarat Paper Leak: जूनियर क्लर्क पेपर लीक मामले में 15 संदिग्ध गिरफ्तार, कई राज्यों से जुड़े आरोपियों के तार

Gujarat Junior Clerk Paper Leak गुजरात में जूनियर क्लर्क प्रतियोगी परीक्षा को पेपर लीक होने के बाद रद कर दिया गया है। मामले में एटीएस ने 15 संदिग्धों को गिरफ्तार भी कर लिया है। आरोपियों के तार कई राज्यों से जुड़े होने का अंदेशा है।

By Jagran NewsEdited By: Mahen KhannaPublished: Sun, 29 Jan 2023 10:59 AM (IST)Updated: Sun, 29 Jan 2023 10:59 AM (IST)
Gujarat Paper Leak: जूनियर क्लर्क पेपर लीक मामले में 15 संदिग्ध गिरफ्तार, कई राज्यों से जुड़े आरोपियों के तार
Gujarat Junior Clerk Paper Leak गुजरात पेपर लीक मामले में कार्रवाई।

गांधीनगर, जेएनएन। Gujarat Junior Clerk Paper Leak गुजरात पंचायत सेवा चयन बोर्ड (जीपीएसएसबी) की जूनियर क्लर्क प्रतियोगी परीक्षा रविवार को पेपर लीक होने के चलते रद्द कर दी गई है। आतंकवाद निरोधक दस्ते (एटीएस) गुजरात ने पेपर लीक में कथित संलिप्तता के लिए 15 संदिग्धों को हिरासत में ले लिया है। सूत्रों के अनुसार कुछ संदिग्ध वडोदरा के हैं और मुख्य साजिशकर्ता के ओडिशा प्रतियोगी परीक्षा पेपर लीक में भी शामिल होने की आशंका है।

loksabha election banner

पांच पुलिस टीमों को अलग-अलग राज्यों में भेजा गया

पुलिस सूत्रों के अनुसार, पांच पुलिस टीमों को रैकेट में शामिल और संदिग्धों को गिरफ्तार करने के लिए मध्य प्रदेश, बिहार, दिल्ली तेलंगाना और उत्तर प्रदेश भेजा गया है। बता दें कि आज सुबह ही GPSSB सचिव ने एक बयान जारी कर परीक्षाओं को रद्द करने की घोषणा की क्योंकि पेपर लीक हो गए थे। जब तक बोर्ड ने पेपर लीक की घोषणा की और उम्मीदवारों से परीक्षा केंद्रों पर न पहुंचने की अपील की, तब तक कई लोग पहुंच चुके थे।

कोचिंग सेंटर से कई प्रश्नपत्र बरामद

जांच के दौरान पुलिस को एक कोचिंग सेंटर में कई परीक्षार्थियों के आधार कार्ड, पैन कार्ड और चुनाव कार्ड के साथ कोचिंग क्लास की रबर स्टांप मिली है। पुलिस की जांच में कोचिंग सेंटर से कई पुराने प्रश्नपत्र भी बरामद हुए हैं।  

9 लाख से ज्यादा लोगों ने किया था आवेदन

जूनियर क्लर्क की परीक्षा के लिए कुल 9,53,000 उम्मीदवारों ने 1,150 पदों के लिए आवेदन किया था। परीक्षा राज्य भर में 2,995 केंद्रों पर आयोजित की जानी थी, जिसके लिए 70,000 परीक्षा कर्मचारी और 7,500 पुलिस कर्मियों को तैनात किया गया था। 

पेपर लीक से गुस्से में छात्र, विरोध प्रदर्शन किया

पेपर लीक के कारण उम्मीदवार काफी गुस्से में हैं। छात्रों के एक समूह ने लुनावाड़ा एसटी डिपो पर विरोध प्रदर्शन किया और सरकार के खिलाफ नारे भी लगाए। भावनगर से परीक्षा देने के लिए अहमदाबाद आए भावनगर के एक परीक्षार्थी ने कहा कि वह रात में सफर कर यहां पहुंचे और फिर पता चला कि परीक्षा रद्द कर दी गई है। उन्होंने कहा कि यह केवल सरकार की गलती है।


Jagran.com अब whatsapp चैनल पर भी उपलब्ध है। आज ही फॉलो करें और पाएं महत्वपूर्ण खबरेंWhatsApp चैनल से जुड़ें
This website uses cookies or similar technologies to enhance your browsing experience and provide personalized recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.