Move to Jagran APP

Gujarat Politics: इस पूर्व मंत्री को गुजरात का मुख्‍यमंत्री बनाने की मांग, कोली-पटेल समाज ने प्रधानमंत्री को लिखा पत्र

गुजरात के कोली पटेल समाज ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को पत्र लिखा है। पत्र के मुताबिक पूर्व मंत्री कुंवरजी बावलिया को राज्य का मुख्यमंत्री बनाने की मांग उठी है। हालांकि पूर्व मंत्री ने ऐसी मांगों को सिरे से खारिज कर दिया है। बावलिया 2017 के विधानसभा चुनाव से पहले कांग्रेस छोड़ भाजपा का दामन थामा था। विजय रुपाणी सरकार में कैबिनेट मंत्री रहे हैं।

By Jagran News Edited By: Ajay Kumar Tue, 09 Jul 2024 08:13 PM (IST)
Gujarat Politics: इस पूर्व मंत्री को गुजरात का मुख्‍यमंत्री बनाने की मांग, कोली-पटेल समाज ने प्रधानमंत्री को लिखा पत्र
Gujarat News: पत्र पर गुजरात भाजपा ने नहीं दी कोई प्रतिक्रिया।

शत्रुघ्‍न शर्मा, गांधीनगर। गुजरात में लोकसभा चुनाव के बाद कुछ नेताओं की नाराजगी सामने आई थी लेकिन ठाकोर-कोली विकास निगम के पूर्व अध्‍यक्ष भूपत डाभी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को पत्र लिखकर राज्‍य के पूर्व कैबिनेट मंत्री कुंवरजी बावलिया को मुख्‍यमंत्री बनाने की मांग की है। हालांकि खुद बावलिया ने इस तरह की मांग को दरकिनार करते हुए कहा कि ऐसे निर्णय पार्टी आलाकमान करता है।

यह भी पढ़ें: 'आज देश के लिए मरने की नहीं...बल्कि', अमित शाह ने लोगों से कर दी ये भावुक अपील

कौन हैं कुंवरजी बावलिया ?

विजय रुपाणी की सरकार में सिंचाई एवं जलापूर्ति मंत्री रह चुके कुंवरजी बावलिया कोली-पटेल समुदाय से आते हैं तथा पाटीदार समाज के बाद ठाकोर व कोली-पटेल समाज का राज्‍य के अधिकांश जिलों में प्रभुत्‍व है। बावलिया गुजरात कांग्रेस के कार्यकारी अध्‍यक्ष एवं कांग्रेस के पूर्व सांसद रहे हैं, 2017 के विधानसभा चुनाव से पहले वे भाजपा में शामिल हो गये थे। उन्‍हें पार्टी में शामिल होते ही कैबिनेट मंत्री बनाया गया था।

कोली-पेटल समाज के अध्यक्ष रह चुके बावलिया

कुंवरजी बावलिया अखिल भारतीय कोली-पटेल समाज के अध्यक्ष भी रह चुके हैं। मुख्‍यमंत्री पद पर दावे को लेकर अक्‍सर विधानसभा चुनाव से पहले विविध समाज की मांग उठती है लेकिन इस बार लोकसभा चुनाव के बाद ठाकोर कोली विकास निगम के पूर्व अध्‍यक्ष ने ही यह मांग उठाई है।

पत्र में क्या लिखा है?

वायरल पत्र में लिखा गया है कि राज्‍य में उनके समाज की आबादी 32 फीसदी है। स्‍थानीय निकाय में भी समाज के प्रतिनधि बड़ी संख्‍या में विविध पदों पर आसीन हैं। लोकसभा चुनाव में कोली-पटेल समाज पूरी तरह भाजपा के साथ रहा है, समाज की भावना है कि अब उनके समाज के नेता कुंवरजी बावलिया को गुजरात के मुख्‍यमंत्री पद पर बिठाया जाए। राज्‍य के प्रति समर्पित एवं निष्‍ठावान नेता को इस पद पर बिठाया जाए तो समाज एवं राज्‍य का भला होगा।

बावलिया ने मांग को किया खारिज

कुंवरजी बावलिया ने इस तरह की मांग को सिरे से खारिज कर दिया। उनका कहना है कि ऐसे निर्णय पार्टी आलाकमान करता है। उनकी ऐसी कोई मांग नहीं है। भाजपा ने इस पत्र को लेकर कोई प्रतिक्रिया नहीं दी है। उल्‍लेखनीय है कि लोकसभा चुनाव के बाद अमरेली, जूनागढ व राजकोट में भाजपा नेताओं के बीच खटपट की खबरें आई लेकिन अब मामला शांत है लेकिन एक समाज की मुख्‍यमंत्री पद की मांग ने राजनीतिक हलकों में जरुर गर्मी ला दी है।

यह भी पढ़ें: सूरत में छह मंजिला इमारत ढहने से मरने वालों की संख्या 7 हुई; मालिकों के खिलाफ FIR दर्ज, एक को हिरासत में लिया