अहमदाबाद, जेएनएन। Coronavirus: कोरोना के बारे में समीक्षा के लिए आई केंद्रीय टीम गुजरात के दौरे पर है। टीम ने अहमदाबाद जिले के दस्क्रोई तहसील के कठवाडा, कणभा और झाणू गांव का दौरा कर लॉकडाउन की स्थिति जिला प्रशासन की तैयारियां के बारे में जानकारी प्राप्त की। अहमदाबाद जिला में सर्वप्रथम मोबाइल टेस्टिंग वैन शुरू की गई है। केंद्रीय टीम ने इसका निरीक्षण कर सुझाव दिया कि कोरोना के परीक्षण के लिए राज्य अन्य शहरों में इस प्रकार की मोबाइल टेस्टिंग वैन शुरू करना चाहिए। केंद्रीय कमेटी ने पाया कि ‘ग्राम्य योद्धा कमेटी’ द्वारा लॉकडाउन का असरकारक अमल करवाया जा रहा है।

अहमदाबाद जिला विकास अधिकारी अरूण महेश बाबू ने कहा कि अहमदाबाद जिला में लॉकडाउन स्थिति तथा प्रशासनिक तैयारियों से केंद्रीय टीम को संतोष है। जिला प्रशासन द्वारा शुरू कोविड-19 मोबाइल टेस्टिंग वान और ग्राम्य योद्धा कमेटी का मॉडल देखकर कमेटी ने इसे राज्य स्तर पर शुरू करने की सिफारिश की। केंद्रीय टीम ने सोमवार को कठवाडा गांव के शेल्टर होम का निरीक्षण किया। यहां अन्य प्रांत के लोगों को रखा गया है। केंद्रीय टीम ने कणभा प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र कणभा-कठलाल रोड पर स्थित मेडिकल टेस्टिंग कैंप का निरीक्षण भी किया।

यहां पर शहर से गांव में आने वालों लोगों को थर्मलगन के द्वारा तापमान मापा जाता है। यहां पर संदिग्ध लक्षण पाए जाने पर सोला सिविल हॉस्पिटल में चिकित्सा के लिए भेजा जाता है। इस पर केंद्रीय टीम ने संतोष व्यक्त किया। इसके अतिरिक्त केंद्रीय टीम ने कणभा और झाणू गांव का दौराकर ग्राम योद्धा कमेटी के बारे में जानकारी प्राप्त की।

केंद्रीय टीम ने आज साणंद एपीएमसी मार्केट और जीआईडीसी का दौराकर श्रमिकों को हालात का जायजा भी लिया। इसके अतिरिक्त जिले में अनाज वितरण की व्यवस्था एफसीआई के गोदामों का निरीक्षण का विविध बाबातों की जानकारी प्राप्त की। जिला विकास अधिकारी अरुण महेश बाबू ने बताया कि अहमदाबाद जिला प्रशासन द्वारा वर्तमान हालात के मद्देनजर विविध कदम उठाए जा रहे हैं। कोविड-19 से निपटने के लिए विविध ग्रामीण इलाकों के लोगों को अवगत करवाया जा रहा हैं।  

गुजरात की अन्य खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

Posted By: Sachin Kumar Mishra

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस