नई दिल्ली, जेएनएन। पिछले सप्ताह अनेक भारतीय समाचार वेबसाइटों ने सोशल मीडिया पर वायरल हो रहे एक वीडियो के आधार पर गलत खबर चला दी थी, जिसमें बताया गया था कि क्वार्टर फाइनल में हारने के बाद ब्राजीली टीम की बस पर प्रशंसकों ने पत्थर - अंडे फेंके थे।

वास्तव में, स्थिति इसके उलट थी। Reuters के अनुसार फुटबॉल टीम के ब्राज़ील लौटने पर प्रशंसकों ने रिओ-दे -जेनेरिओ एयरपोर्ट पर गर्मजोशी से स्वागत किया था।

पाठकों को गलत सूचना देने की वजह बना है, यूगांडा के क्वॉव स्पोर्ट्स का ट्वीट किया एक पुराना वीडियो। यह ट्विटर हैंडिल वेरिफाइड था, इसलिए आसानी से यह गलत सूचना फ़ैलती चली गई। हालांकि, कोई भी मीडिया कंपनी अपने दायित्व से नहीं बच सकती। जागरण डॉट कॉम पर भी यह गलत सूचना प्रसारित हुई थी। इसके लिए हम खेद व्यक्त करते हैं और, भविष्य में इसकी पुनरावृत्ति न हो इसका प्रबंध किया जा रहा है।        

ब्राजील टीम पर अंडे फेंके जानेवाला वीडियो पूरी तरह से फर्जी है। ये था वह वीडियो जिसके चलते भ्रम की स्थिति बनी।

फीफा की खबरों के लिए यहां क्लिक करें 
फीफा के शेड्यूल के लिए यहां क्लिक करें

Edited By: Ravindra Pratap Sing