ब्रासीलिया, एपी। कोपा अमेरिका में खिताबी भिड़ंत किन दो टीमों के बीच होगी इसका फैसला बुधवार को होगा। ब्राजील की टीम ने पेरू को हराकर फाइनल का टिकट पक्का किया था जबकि अर्जेंटीना ने कोलंबिया को मात देकर इस महामुकाबले में जगह पक्की की। कप्तान लियोन मेसी ने चोटिल होने के बाद भी टीम के लिए पेनाल्टी किक लिया। वहीं गोलकीपर एमिलियानो मार्टिनेज के शानदार बचाव की बदौलत टीम ने पेनाल्टी शूट आउट में 3-2 से जीत हासिल की।

खून निकला लेकिन नहीं टूटी हिम्मत 

मेसी ने एक बार फिर साबित कर दिया कि उन्हें विश्व के सबसे सर्वश्रेष्ठ स्ट्राइकरों में क्यों गिना जाता है। मैच के दौरान उनका टखने में चोट लगी और खून भी बहने लगा लेकिन इस स्ट्राइकर ने अपनी हिम्मत नहीं टूटने दी। उन्होंने बहते खून के साथ ही पेनाल्टी शूट आउट में गोल भी दागा। 55वें मिनट में फ्रैंक ने मेसी को टक्कर मारी और वह गिर पड़े। उनकी एड़ी का जोड़ चोटिल हो गया। वहां से खून निकला। रेफरी ने फ्रैंक को यलो कार्ड भी दिखाया।

अब सामने होंगे नेमार 

मेसी को कोपा अमेरिका जीतने के लिएनेमार और उनकी मजबूत टीम ब्राजील से भिड़ना होगा जो खिताब की प्रबल दावेदार है। हालांकि दोनों खिलाड़ी एक-दूसरे की कमियों को भी अच्छे से जानते होंगे क्योंकि दोनों ही स्पेनिश क्लब बाíसलोना के लिए साथ खेल चुके हैं। ऐतिहासिक माराकाना स्टेडियम में रविवार की सुबह को होने वाला फाइनल महा मुकाबले से कम नहीं होगा।

अर्जेंटीना की टीम 1993 में कोपा अमेरिका खिताब जीतने के बाद से कोई बड़ा टूर्नामेंट नहीं जीत पाई है। उस समय भी अर्जेंटीना ने सेमीफाइनल में निर्धारित समय में मुकाबला गोलरहित बराबर रहने के बाद कोलंबिया को ही पेनाल्टी शूट आउट में 6-5 से हराया था। ब्राजील ने सोमवार को पेरू को 1-0 से हराकर फाइनल में प्रवेश किया था। ब्राजील की टीम ने स्वदेश में कभी इस टूर्नामेंट का फाइनल नहीं गंवाया है।

 

Edited By: Viplove Kumar