नई दिल्ली, जेएनएन। एक्टर नवाजुद्दीन सिद्दीकी और राधिका आप्टे स्टारर फिल्म 'रात अकेली है' नेटफ्लिक्स पर रिलीज हो गई है। फिल्म की सोशल मीडिया पर काफी तारीफ हो रही है और हर कोई फिल्म की मर्डर स्टोरी की तारीफ कर रहा है। एक मर्डर मिस्ट्री पर बनी यह फिल्म काफी मजेदार है और फिल्म के संस्पेंस पर किया गया फिल्म की यूएसपी है। फिल्म को जिस तरह से लिखा गया है, वो वाकई जबरदस्त है बस कुछ लोग फिल्म की स्पीड को लेकर शिकायत कर रहे हैं कि फिल्म थोड़ी धीरे-धीरे आगे बढ़ती है। ऐसे में जानते हैं उन 5 कारणों के बारे में, जो बताते हैं कि आखिर यह फिल्म क्यों देखी जानी चाहिए...

1. सस्पेंस

यह फिल्म का सबसे प्रमुख भाग है और ये ही दर्शकों को बांधकर रखता है। फिल्म में ऐसा संस्पेंस है कि आप एक बार सीरीज शुरू होने के बाद उसे बंद करने की कोशिश नहीं कर पाएंगे। फिल्म की शुरुआत में लगता है कि मर्डर राधिका आप्टे ने किया है, लेकिन बाद में जो सामने आता है वो बहुत ही चौंकाने वाला और मजेदार है। इस फिल्म में पुलिस इंस्पेक्टर का किरदार नवाजुद्दीन सिद्दीकी निभा रहे हैं, जो इस मामले की जांच कर रहे हैं।

2. एक्टिंग

फिल्म देखने की दूसरी वजह बनती है किरदारों की एक्टिंग। अगर आप कुछ दिनों से अच्छी एक्टिंग से भरपूर फिल्म देखना चाहते हैं तो यह फिल्म आपके लिए अच्छा ऑप्शन हो सकता है। फिल्म में नवाजुद्दीन सिद्दीकी, तिग्मांशु धूलिया, राधिका आप्टे ने जबरदस्त एक्टिंग की है, जिसने फिल्म में अलग दम भर दिया है।

3. रियलस्टिक

फिल्म की कहानी काफी रियलस्टिक है और विश्वास योग्य है। आपको कुछ जगह को छोड़कर बिल्कुल भी नहीं लगेगा कि फिल्म में ज्यादा ड्रामा भर दिया है कि फिल्म सत्यता से काफी दूर चली गई है। फिल्म काफी रियलस्टिक है, जो ऐसे सिनेमाप्रेमियों को काफी पसंद आने वाली है।

4. नवाज और राधिका की वापसी

अपने करिदार और एक्टिंग की वजह से बॉलीवुड में खास पहचान बनाने वाले एक्टर नवाजुद्दीन सिद्दीकी और राधिका आप्टे ने फिल्म से अच्छी वापसी की है। पिछली कुछ फिल्मों के खराब प्रदर्शन के बाद नवाज के लिए यह कमबैक फिल्म साबित हो सकती है, क्योंकि इसमें नवाज के काम को काफी सराहा गया है।

5. स्टोरी टेलिंग

फिल्म की कहानी यानी मर्डर मिस्ट्री को जिस तरह से लिखा गया है वो काफी मजेदार है। साथ ही फिल्म में हर किरदार के इंट्रो से लेकर उसकी अहमियत को अच्छे से बुना गया है, जिससे फिल्म के बीच में कोई भी कंफ्यूजन क्रिएट नहीं होता है और फिल्म एक फ्लो में आगे बढ़ती रहती है।  

Posted By: Mohit Pareek

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस