नई दिल्ली, जेएनएन। साल 2021 के बाइस दिन गुज़र चुके हैं, मगर अभी भी बॉलीवुड फ़िल्मों का रिलीज़ कैलेंडर तकरीबन खाली पड़ा है। इस साल अभी सिर्फ़ तीन तारीख़ें ही बुक हुई हैं। हमेशा की तरह सलमान ख़ान ने ईद अपने नाम कर ली है। सलमान ने राधे- योर मोस्ट वॉन्टेड भाई के इसी साल ईद पर सिनेमाघरों में रिलीज़ होने का एलान कर दिया है।

कंगना रनोट ने गांधी जयंती के मौके पर पहली अक्टूबर को अपनी फ़िल्म धाकड़ रिलीज़ करने की घोषणा की है। वहीं, शाहिद कपूर बता चुके हैं कि उनकी फ़िल्म जर्सी इस साल दिवाली पर सिनेमाघरों में आएगी। इन तारीख़ों के अलावा अभी तक गणतंत्र दिवस, होली और स्वतंत्रता दिवस जैसी तीरीख़ें खाली हैं। क्रिसमस पर ज़रूर आमिर ख़ान की फ़िल्म लाल सिंह चड्ढा रिलीज़ किये जाने की उम्मीद है। कोरोना वायरस पैनडेमिक से ज़मीन पर आये फ़िल्म उद्योग को इन तारीख़ों के भरने का बड़ी बेचैनी से इंतज़ार है। 

सलमान के एलान का स्वागत

2021 में सिनेमाघरों में बड़ी फ़िल्मों को उतारने की शुरुआत सलमान ने कर दी है। उनका यह एलान उनके फैंस के साथ सिनेमाघर मालिकों के लिए भी ख़ुशियां लेकर आया, जो काफ़ी अर्से से इस एलान का इंतज़ार कर रहे थे। सिनेमाघरों मालिकों ने सोशल मीडिया के ज़रिए सलमान से गुज़ारिश भी की थी कि वो अपनी फ़िल्म थिएटर्स में ही रिलीज़ करें। सलमान के एलान के बाद अब सबकी नज़रें अक्षय कुमार और शाह रुख़ ख़ान जैसे सुपर स्टार्स पर जमी हैं, जो सिनेमाघरों की रौनक़ लौटा सकते हैं।

क्या मास्टर की सक्सेस से प्रेरणा लेगा बॉलीवुड?

बड़ी फ़िल्मों के निर्माता अभी भी वेट एंड वॉच की नीति अपना रहे हैं। कोरोना वायरस की वजह से सिनेमाघरों से दूर हुए दर्शकों को वापस लाना एक चुनौती है। इसीलिए ट्रेड जानकार मानते हैं कि जब तक मेगा स्टार्स की फ़िल्में सिनेमाघरों में रिलीज़ नहीं होंगी, हालात बदलना मुश्किल है।

हाल ही में रिलीज़ हुई तमिल फ़िल्म मास्टर की कामयाबी को एक मिसाल के तौर पर देखा जा रहा है, जिसने 50 फीसदी दर्शक सीमा होने के बावजूद शानदार कारोबार किया है। रिलीज़ के पहले हफ़्ते में सिर्फ़ तमिलनाडु में फ़िल्म का ग्रॉस कलेक्शन 100 करोड़ के आस-पास बताया जा रहा है। मास्टर पोंगल के मौके पर रिलीज़ हुई थी और दर्शकों मे इस फ़िल्म को लेकर ज़बरदस्त जोश देखा गया। 

कुछ ऐसी ही उम्मीद बड़े स्टार्स वाली हिंदी फ़िल्मों से की जा रही है, मगर रिलीज़ को लेकर कोई एलान ना होने की वजह से असमंजस की स्थिति बनी हुई है।

बेलबॉटम के ओटीटी पर जाने की चर्चा से खलबली 

सिनेमाघर संचालकों को ओटीटी प्लेटफॉर्म से भी चुनौती मिल रही है। नुक़सान से बचने के लिए निर्माता ओटीटी प्लेटफॉर्म्स से डील करके फ़िल्म वहां रिलीज़ कर रहे हैं। पिछले कुछ महीनों में कई बड़ी फ़िल्में ओटीटी प्लेटफॉर्म्स पर रिलीज़ की जा चुकी हैं। हाल ही में अक्षय कुमार की फ़िल्म बेलबॉटम को लेकर मीडिया रिपोर्ट्स आयीं कि फ़िल्म को लेकर अमेज़न प्राइम से बातचीत चल रही है। इस ख़बर अक्षय के फैंस में खलबली मच गयी।

उन्होंने ट्वीट्स के ज़रिए अक्षय से गुज़ारिश की कि वो अपनी फ़िल्म सिनेमाघरों में ही लेकर आयें। अक्षय बड़े स्टार हैं और उनकी फ़िल्में बॉक्स ऑफ़िस पर मुनाफ़ा देकर जाती हैं। इसीलिए सिंगल स्क्रीन थिएटर और मल्टीप्लेक्स मालिक भी अक्षय की फ़िल्मों को अपने यहां रिलीज़ करना चाहते हैं। अक्षय कई फ़िल्में पाइपाइन में हैं। इनमें सबसे आगे है सूर्यवंशी, जो पिछले साल मार्च में रिलीज़ होने वाली थी। रोहित शेट्टी निर्देशत फ़िल्म से काफ़ी उम्मीदें हैं और यह बड़ी क्राउड पुलर साबित हो सकती है।

शाह रुख़ ख़ान की पठान का इंतज़ार

सलमान और अक्षय के अलावा शाह रुख़ ख़ान की फ़िल्म पठान को लेकर घोषणा का इंतज़ार है। शाह रुख़ ने 2018 की फ़िल्म ज़ीरो फ्लॉप होने के बाद लम्बा ब्रेक लिया और फिर सिद्धार्थ आनंद के निर्देशन में बन रही यशराज बैनर की फ़िल्म पठान से वापसी का इरादा बनाया। फ़िल्म का दूसरा शेड्यूल हाल ही में मुंबई में पूरा हुआ है और अब मिडिल ईस्ट में अगला शेड्यूल होगा, जिसमें कई हाई ओक्टेन एक्शन दृश्य फ़िल्माए जाएंगे।फ़िल्म में जॉन अब्राहम और दीपिका पादुकोण मुख्य स्टार कास्ट का हिस्सा हैं। जॉन नेगेटिव रोल में दिखेंगे। शाह रुख़ और दीपिका रॉ एजेंट बने हैं। डिम्पल कपाड़िया भी स्टार कास्ट का हिस्सा हैं। शाह रुख़ ने कुछ वक़्त पहले ट्विटर पर चैट सेशन में कन्फ़र्म किया था कि वो इसी साल बड़े पर्दे पर आएंगे, जिसके बाद से यह पक्का माना जा रहा कि पठान इसी साल रिलीज़ होगी। हालांकि, अभी इस फ़िल्म की रिलीज़ डेट को लेकर भी कुछ तय नहीं है।

Edited By: Manoj Vashisth