मुंबई, दीपेश पांडेय। फैशन डिजाइनर से अभिनेत्री बनने तक का सफर तय करने वाली खुशाली कुमार को काम आसानी से नहीं मिला है। दिवंगत गुलशन कुमार की बेटी खुशाली हमेशा से अभिनेत्री बनना चाहती थीं। हालांकि वह बतौर फैशन डिजाइनर काफी समय से काम कर रही हैं, लेकिन अब उनका सपना पूरा हुआ है फिल्म धोखा- राउंड द कार्नर फिल्म से। खुशाली कहती हैं कि मैं अपना सपना जी रही हूं। मेरा सफर बहुत लंबा रहा है। बहुत से लोग सोचते हैं कि मेरे लिए चीजें बहुत आसान रही होंगी, लेकिन ऐसा बिल्कुल नहीं था। बहुत कम लोग जानते हैं कि मेरे पापा जब पहली बार मुंबई आए थे, तब वह एक्टर बनने की इच्छा लेकर ही आए थे, लेकिन उनके पास पैसे नहीं थे। रहने के लिए कोई जगह नहीं थी। वह गुरुद्वारे में रहे थे। उनको तब लगा था कि मुंबई शहर में रहना आसान नहीं होगा। यहां सपने पूरे नहीं हो सकते हैं।

एक हफ्ते में वह वापस लौट गए थे, लेकिन उसी वक्त उन्होंने सोचा था कि एक दिन ऐसी कंपनी बनाऊंगा, जो नए टैलेंट्स को मौका देगी। मैं अपने आपको लकी समझती हूं कि मैं उनके सपने को जी पा रही हूं। पापा के जाने के बाद सफर आसान नहीं था। मम्मी मुझे और मेरी बहन को लेकर दिल्ली आ गईं। मुझे फैशन इंडस्ट्री में जाना पड़ा, लेकिन हमेशा से अंदर एक एक्टर था। मां को बड़ी मुश्किल से मनाया कि मैं एक्टिंग करूंगी। एक दिन जब वह मान गईं तो धोखा- राउंड द कार्नर की स्क्रिप्ट मेरे पास आ गई। फिर किस्मत देखिए कोविड आ गया, लेकिन मेरा ईश्वर पर विश्वास है कि आपके लिए जो बेस्ट होगा, वो आपके सामने लेकर आ ही जाएंगे।

Edited By: Sanjay Pokhriyal